महाकालेश्वर के दर्शन करने पहुंचे सूरीनाम के राष्ट्रपति, महाकाल लोक ने मोहा प्रवासी मेहमानों का मन

इंदौर में प्रवासी भारतीय सम्मेलन में शामिल होने के लिए देश विदेश से कई मेहमान पधारे हैं। यह मेहमान महाकालेश्वर (Mahakaleshwar) के दर्शन करने के लिए उज्जैन भी पहुंच रहे हैं।

Mahakaleshwar: इंदौर में इस समय प्रवासी भारतीय सम्मेलन (Pravasi Bharatiya Sammelan) चल रहा है, जिसमें कई विदेशी मेहमान शामिल हुए हैं। यहां पहुंचे प्रवासी मेहमान उज्जैन (Ujjain) के महाकालेश्वर मंदिर में दर्शन करने के लिए भी पहुंच रहे। इसी कड़ी में सूरीनाम के राष्ट्रपति (Suriname President) चंद्रिका प्रसाद संतोखी (Chandrika Prasad Santokhi) परिवार के साथ उज्जैन पहुंचे और बाबा महाकाल के दर्शन किए। दर्शन करने के बाद उन्होंने ई-कार्ट के जरिए महाकाल लोक (Mahakal Lok) का भ्रमण भी किया।

बीते दो दिनों से लगातार प्रवासी भारतीय उज्जैन पहुंच रहे हैं। सूर्य नाम के राष्ट्रपति भी यहां पर पहुंचे और नंदी द्वार से महाकाल लोक में प्रवेश करने के बाद उन्होंने अपनी पत्नी के साथ महाकाल लोक का भ्रमण कर यहां लगी मूर्तियों की कहानियों के बारे में जानकारी ली। इसके बाद उन्होंने चांदी द्वार से बाबा का पूजन अर्चन और अभिषेक किया। मंदिर समिति की ओर से राष्ट्रपति का सम्मान भी किया गया।

भस्म आरती में पहुंचे प्रवासी मेहमान

मंदिर समिति द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक बड़ी संख्या में प्रवासी भारतीय महाकालेश्वर मंदिर में दर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं। आज सुबह भी भस्म आरती के दौरान भी बड़ी संख्या में प्रवासी मेहमान महाकाल मंदिर पहुंचे। इसमें दुबई और कतर से आए 12 सदस्यों की टीम भी शामिल रहे। हाल ही में एक शिव मंदिर का निर्माण किया गया है यहां के मैनेजर भी महाकाल दर्शन करने के लिए पहुंचे। समिति द्वारा की गई व्यवस्थाओं से सभी मेहमान खुश नजर आए और उज्जैन की स्वच्छता भी उन्हें पसंद आई।