बाइक सवार युवकों की बदमाशों ने बेरहमी से की पिटाई, नदी में फेंकी गाड़ी

दो युवकों के साथ बेरहमी से मारपीट कर उनकी बाइक को नदी में फेंकने का वीडियो सामने आया है। मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

Ujjain News: उज्जैन की शिप्रा नदी के स्टॉप डैम पर बाइक सवार युवकों के साथ कुछ लोगों द्वारा लाठी-डंडे और लोहे की रॉड से मारपीट करने की घटना सामने आई है। इतना ही नहीं युवकों की बाइक को मारपीट करने वाले लोगों ने नदी में फेंक दिया। मामले की जानकारी लगने के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 3 लोगों को हिरासत में लिया है।

यह मामला नीलगंगा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली जीवाजी वेधशाला के पास गऊघाट स्टॉप डेम का है। यहां पर पुरानी रंजिश के चलते दो युवकों पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया और जमकर मारपीट की। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। जिसके आधार पर पुलिस ने तीन युवकों को हिरासत में लिया।

वीडियो में देखा जा सकता है कि बाइक सवार दो लोगों को कुछ लोग लकड़ियों से बुरी तरह पीट रहे हैं। एक युवक तो जैसे तैसे वहां से भाग निकला लेकिन दूसरे युवकों को भीड़ ने घेरकर बुरी तरह पीट दिया। कुछ युवक बाइक को शिप्रा नदी में फेंकते हुए भी दिखाई दे रहे हैं।

पुरानी रंजिश का है मामला

नीलगंगा पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया है कि जिस युवक गोविंद के साथ मारपीट की गई है हमलावर राहुल उसका दोस्त थे। साल 2018 में गोविंद को हत्या के मामले में जेल हो गई थी। इस मामले में राहुल का नाम भी सामने आया था। 1 साल पहले गोविंद को कोर्ट ने बरी कर दिया और उसका कहना है कि राहुल उसके मकान पर कब्जा करके बैठा है। इसी बात को लेकर दोनों में वाद विवाद हो रहा है।

दुर्लभ गैंग से जुड़े हैं तार

मामले में हमले में घायल हुए गोविंद का कहना है कि उसकी मालीपुरा में सब्जी की दुकान है। अपने साथी के साथ वह घर लौट रहा था तभी कुछ लोगों ने राहुल माली के साथ मिलकर उस पर हमला कर दिया और बाइक को नदी में फेंक दिया। गोविंद ने यह भी बताया कि राहुल हाल ही में दुर्लभ कश्यप गैंग के गुर्गे हेमंत बोखला और तुषार खत्री को सुनाई गई उम्र कैद की सजा वाले मामले में रिहा होकर आया है और उसने मेरे मकान पर कब्जा कर रखा है।