दर्दनाक हादसा : उज्जैन में स्कूली बच्चों से भरी मैजिक पलटी,18 बच्चे घायल, 1 की मौत

घायलों में कुछ बच्चों को अधिक चोट आई है और 1 की मौत हो गई है।

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के उज्जैन (Ujjain) के देवास रोड स्थित मदर लैंड स्कूल के बच्चों से भरी मैजिक वाहन हादसे का शिकार हो गई, बताया जा रहा है कि इस वाहन में सवार 18 बच्चे घायल हो गए और हादसे में मैजिक ड्राइवर की मौत हो गई, घायल बच्चों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, चार बच्चों की हालत गंभीर है सूचना मिलते ही बच्चों के परिजन समेत आला अफसर भी जिला अस्पताल पहुंच गए।

यह भी पढ़े…Government Job 2022 : जूनियर क्लर्क और कॉपीस्ट पदों पर निकली भर्ती, 30 मार्च से पहले करें अप्लाई

आपको बता दें कि, सोमवार दोपहर 3 बजे मदर लैंड स्कूल के बच्चों को घर छोड़ने के लिए जा रहा था तभी ओवरलोडिंग की वजह से आज उज्जैन के पास धतरावदा में स्कूली बच्चों से भरी टाटा मैजिक पलट गई, इस दर्दनाक में दुर्घटना में दीपक नाम के वाहन चालक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, वाहन चालक नेहरू नगर नागझिरी में रहता था और कुछ समय से मदन लैंड स्कूल चंदेसरा के लिए मैजिक संचालित कर रहा था, मिली जानकारी के अनुसार बताया गया कि, इस दुर्घटना में 18 बच्चों को चोट आई है, जिन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है घायलों में कुछ बच्चों को अधिक चोट आई है और 1 की मौत हो गई है।

यह भी पढ़े…इंदौर की “गेर” यूनेस्को की सांस्कृतिक धरोहर में हो सकती है शामिल

घायलों में सुनेन खान (11) समीना मंसूरी (10), रुहाना मंसूरी (7), रहमान मंसूरी (5), त्रिषा मालवीय (9), अनुष्का मालवीय (8), बलराज परमार (15), प्रियांश सिसोदिया (11), अंकुश मंडोरा (10), तन्वी सुनेसा (10), गुनगुन रायकवार (10), पायल रायकवार (12), कुलदीप मालवीय (17), नमन भाटी (13), ख़ुशी भाटी (10), प्राची मालवीय (11), रोहन मालवीय (10), उजेर खान (6), मो. जैद (7), शबनम खान (11) शामिल हैं।

यह भी पढ़े…अब फोन करने पर नहीं सुनाई देगी कोरोना की Caller Tune, स्वास्थ मंत्रालय ने लिया फैसला 

इस हादसे की जानकारी जैसे ही उज्जैन कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को मिली तो वो खुद अस्पताल पहुंचे, साथ ही उन्होंने पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली और अधिकारियों ने स्पष्ट रूप से कहा है कि इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी, इस दौरान पुलिस अधीक्षक ने भी ओवरलोड पैसेंजर वाहनों के खिलाफ अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं।