उज्जैन- एसिड अटैक की शिकार नर्स ने दम तोड़ा, लिव इन पार्टनर ने फेंका था एसिड

उज्जैन, योगेश कुल्मी। एसिड अटैक (Acid Attack victim) की शिकार महिला ने 72 घंटों के संघर्ष के बाद आज दम तोड़ दिया। उज्जैन (Ujjain) में बुधवार को 13 साल से लिव इन रिलेशनशिप (live in relationship) में रह रही एक नर्स पर उसी के पार्टनर ने एसिड फेंक (Acid attack) दिया था। घटना में महिला के शरीर का ऊपरी हिस्सा बुरी तरह झुलस गया था जिसके बाद उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

साईंनाथ कालोनी में रहने वाली एसिड अटैक विक्टिम ने आज जिंदगी को अलविदा कह दिया। बता दें कि 35 वर्षीय महिला पिछले 13 साल से मुकेश शर्मा नाम के व्यक्ति के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रही थी। महिला ने 13 साल पहले अपने पति से तलाक ले लिया था, वहीं मुकेश भी विवाहित था लेकिन वो भी पत्नी से अलग रहता था। पीड़िता महिला एक निजी चिकित्सालय में नर्स का काम करती थी। कहा जा रहा है कि मुकेश शर्मा चाहता था कि वो अपना नर्स का काम छोड़ दे, इसके अलावा वो उसके चरित्र पर भी शंका करता था। मुकेश दूध बांटने का काम करता था और घटना वाले दिन वो सुबह करीब पांच बजे दूध बांटने की बात कहकर घर से निकला था। लेकिन कुछ ही देर में वो वापस लौटा और महिला पर एसिड फेंक दिया। इसके बाद मुकेश मौके से फरार हो गया। बाद में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था। पूछताछ में मुकेश ने बताया कि उसने नर्स के ऊपर दूध में फैट चेक करने के उपयोग में आने वाला सल्फ्युरिक एसिड पर डाला था। वह एसिड बियाबानी चौराहे से एक डेयरी प्रोडक्ट दुकान से खरीदकर लाया था। पुलिस ने दुकान संचालक नजीम खान को भी सह आरोपी बनाते हुए जेल भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here