उज्जैन : भाजपा नेत्री अपेक्षा शुक्ला ने दिया कांग्रेस नेत्री नूरी खान को ट्विटर पर जवाब

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। भाजपा प्रदेश नेत्री एडवोकेट अपेक्षा शुक्ला ने नूरी खान के बयान पर पलटवार किया है, महाकाल की नगरी में रहने वाली भाजपा की प्रदेश नेत्री एडवोकेट अपेक्षा शुक्ला प्रदेश भाजपा की सह-सोशल मीडिया प्रभारी है । अपेक्षा शुक्ला ने नूरी को सलाह दी है कि वह काँग्रेस की चिंता करे न कि हमारी सरकार की, मेरी आपको व्यक्तिगत सलाह है कि योग व डांडिया हमारी संस्कृति, त्योहार व परंपरा से जुड़े है, इन विषयों पर बोलने से पहले विचार अवश्य कर लिया करे। भाजपा की प्रदेश सरकार शोषित-दलित-पीड़ित समुदाय की चिंता करना जानती है। शिवराज सरकार महिलाओं के प्रति न्याय को लेकर जितनी सजग है, शायद ही पिछली सरकारे रही होंगी। मामा अपनी भांजियों की शिक्षा से लेकर शादियों तक कि चिंता करते हैं। अपेक्षा ने कहा कि काँग्रेस नेत्री नूरी खान को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का रोग लग गया है, इसलिए ऐसे बेतुके बयान देकर मात्र मीडिया में छाना चाहती है।

यह भी पढ़ें…. आपके घर में भी हैं कुछ ऐसे फूल, जिसे आयुर्वेद मानता है वरदान, जाने

गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर मध्यप्रदेश में योग आयोग का गठन करने का निर्णय लिया गया था। योग आयोग के गठन के बाद कांग्रेस नेत्री और महिला कांग्रेस की सीनियर वाइस प्रेसिडेंट नूरी खान  ने योग आयोग पर सवाल उठा दिए हैं। वहीँ उन्होंने सरकार से अजीबोगरीब मांग कर दी। ट्वीट करते हुए नूरी खान ने कहा कि एक तरफ प्रदेश अल्पसंख्यक आयोग- महिला आयोग और तमाम आयोग को ताला लगाकर पीड़ित लोगों को न्याय दिलाने से रोका जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ योग आयोग गठित कर प्रदेश सरकार आखिर क्या साबित करना चाहती है। ज्ञात हो कि आठवीं अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने छात्रों के लिए बड़े ऐलान किए थे। सीएम हाउस में छात्रों को संबोधित करते हुए सीएम शिवराज ने कहा था कि मध्यप्रदेश में योग आयोग बनाया जाएगा। जिसमें सभी बच्चों को योग का प्रशिक्षण दिया जाएगा।