खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने टीम के साथ मारा छापा, गुस्साए दुकानदारों ने किया विरोध

अधिकारी राजस्व व पुलिस विभाग (police Department) की संयुक्त टीम ने खाद्य पदार्थो में मिलावट सहित अन्य अनियमितता की जांच के लिए छापामार कार्रवाई की। साथ ही खाद्य अधिकारी (Food Officer) ने मीडिया (Media) के माध्यम से अपील की है कि छोटे व्यापारी व ग्राहक सामान लेने के दौरान पक्का बिल (Bill)अवश्य लें ।

उमरिया, बृजेश श्रीवास्तव। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान के द्वारा प्रदेश भर में मिलावट के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत उमरिया जिले के नौरोजाबाद थाना क्षेत्र में खाद्य सुरक्षा(Food Security) अधिकारी राजस्व व पुलिस विभाग की संयुक्त टीम ने खाद्य पदार्थो में मिलावट सहित अन्य अनियमितता की जांच के लिए छापामार कार्रवाई की।
इस दौरान खाद्य अधिकारी नीरज विष्वकर्मा ने नौरोजाबाद के प्रतिष्ठानों में निरीक्षण किया। जहां राजा किराना स्टोर में कार्रवाई करते हुए अवमानक खाद्य पदार्थो की आशंका होने पर सामग्रियों का नमूना लिया गया। जिसे अग्रिम जांच के लिए भोपाल परीक्षण केंद्र भेजने की बात कही है।

ये भी पढ़े- Bhopal News: भोपाल-बीना के बीच जल्द शुरू हो सकती है एक्सप्रेस कम पैसेंजर ट्रेन, यात्रियों के लिए अप-डाउन करना होगा आसान

बताया गया है कि बड़े दुकानदारों द्वारा ग्राहकों व फुटकर विक्रेताओं को सामान देने के दौरान बिल नहीं दिए जाता है, जो की नियम के विरुद्ध है। गौरतलब है कि खाद्य विभाग की इस कार्रवाही के दौरान व्यापारियों ने आक्रोश दिखाते हुए विरोध किया साथ ही बाजार बंद करने की बात कही।

तहसीलदार रमेश रावत ने व्यापारियों को समझाइश की । उन्होंने कहा कि वह मौके पर की जा रही कार्रवाई का विरोध न करें बल्कि अपना पक्ष रख सकते है। खाद्य अधिकारी नीरज विष्वकर्मा ने मीडिया के माध्यम से अपील की है कि छोटे व्यापारी व ग्राहक सामान लेने के दौरान पक्का बिल अवश्य लें व किसी भी तरह की परेशानी होने पर खाद्य सुरक्षा कार्यालय में संपर्क कर सकते है। उल्लेखनीय है कि जिले के विभिन्न क्षेत्रों में संचालित होटल रेस्टोरेंट व ढाबा में खाद्य सुरक्षा विभाग द्वारा नियमित कार्रवाही नही की जा रही है, जिससे वहां फैली अनियमितता कब रुकेगी यह एक अहम सवाल है।

नौरोजाबाद के व्यापारियों ने फूड इंसपेक्टर के खिलाफ शिकायत की है, मामले की जांच की जाएगी।
संजीव श्रीवास्तव, कलेक्टर उमरिया