u-turn-of-Agriculture-Minister-sachin-yadav-will-not-stop-'Bhavantar'-will-change-in-Guidelines

खरगोन/त्रिलोक रामणेकर। मप्र में जालसाजों के हौसलें बुलंद है। जालसाज आम आदमी के साथ राजनेताओं को भी अपना शिकार बना रहे हैं। ऐसी ही जालसाजी का शिकार प्रदेश के पूर्व कृषि मंत्री और कसरावद से कांग्रेस विधायक सचिन यादव भी हुए है। अज्ञात आरोपी ने धोखे से उनके बैंक खाते से 20 लाख रुपए पार कर दिए। रकम निकलने का मैसेज मिलने पर उन्होंने तत्काल बैंक और पुलिस को फर्जीवाड़े की सूचना दी गई। जिसके बाद पुलिस आरोपी जालसाज का पता लगाने में जुट गई है।

जानकारी अनुसार अज्ञात बदमाश ने धोखाधड़ी से पूर्व कृषिमंत्री सचिन यादव के खाते से 20 लाख रुपये ट्रांसफर किये। जालसाजों ने खरगोन एसबीआई बैंक शाखा सब्जी मंडी से फर्जी फोन कर राशि ट्रांसफर करवाई। सचिन यादव की निमाड़ मोटर्स फर्म के तीन खातों का लेटर भेज, फोन से बैंक मैनेजर को राशि ट्रांसफर करने का फोन लगाकर धौखाधड़ी की। आरोपी ने मोबाइल पर सचिन यादव बनकर फोन लगाया। इसके बाद सचिन यादव को रकम निकासी का मैसेज मिलने पर धोखे की जानकारी लगी। उन्होंने तत्काल बैंक एंव पुलिस को सूचना दी। बैंक एंव पुलिस की मदद से साढ़े तीन लाख रिकवर हुए जबकि साढ़े सोलह लाख की राशि और बदमाशों को पकडऩे में पुलिस जुटी हुई है।