VIDEO VIRAL : अब इमरती देवी के बिगड़े बोल- कमलनाथ की मां- बहन को बता दिया ‘आईटम’

कमलनाथ पर हमलावर हुई इमरती भी अपनी जुबान पर कंट्रोल नहीं कर पाई और कमलनाथ की स्वर्गीय मां- बहन को भी मामले में घसीट लिया और उन्हें आयटम बता डाला।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में विधानसभा उपचुनाव (Assembly by-election) से पहले आयटम (Item) को लेकर मचा बवाल थमता नजर नहीं आ रहा है। डबरा (dabra) में आयोजित एक जनसभा में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (kamalnath) ने मंत्री इमरती देवी (imarti devi) को आयटम संबोधित कर दिया। विवाद इतना बढ़ा कि कमलनाथ सभी के निशाने पर आ गए। कमलनाथ पर हमलावर हुई इमरती भी अपनी जुबान पर कंट्रोल नहीं कर पाई और कमलनाथ की स्वर्गीय मां- बहन को भी मामले में घसीट लिया और उन्हें आयटम बता डाला। इमरती का यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिस पर कांग्रेस ने उन्हें आड़े हाथों लेना शुरु कर दिया है।

दरअसल कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद (Acharya Pramod) ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर एक वीडियो साझा किया है। वीडियो में इमरती देवी कह रही है कि ‘वह (कमलनाथ) बंगाली आदमी है, मध्य प्रदेश आया, सिर्फ मुख्यमंत्री बनने के लिए। उस व्यक्ति को बोलने की सभ्यता नहीं है, वह मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद से पागल हो गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने कमलनाथ की मां और बहन के लिए कहा कि ‘क्या कह सकते हैं उनकी मां और बहन होंगी बंगाल की आइटम, हमें यह पता थोड़ी है।’ इस वीडियो को साझा करते हुए आचार्य प्रमोद ने लिखा है कि ‘छिन्दवाड़ा से 10 बार लोकसभा पहुँचने वाले, संसद के “वरिष्ठ” सदस्य पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और उनकी स्वर्गीय माँ के लिये इमरती देवी के “मधुर” वचन।

बता दे कि यह वीडियो सोमवार का ही है, जब मीडिया इमरती देवी के पास कमलनाथ के बयान पर प्रतिक्रिया लेने पहुंची थी। इस दौरान वे आपा खो बैठी और उनकी जुबान से कमलनाथ की स्वर्गीय मां और बहन के विषय में अभद्र भाषा निकल गई। हालांकि अभी तक इस संबंध में कमलनाथ की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। लेकिन इमरती देवी का ये वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। जिसके बाद अब संभावना है कि कांग्रेस भी इस पर खामोश नहीं बैठेगी और इमरती के खिलाफ मोर्चा खोलेगी। गौरतलब है कि इससे पहले इमरती देवी को ‘आइटम’ कहने पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (rahul gandhi) ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बयान बताया था। जबकि अब चुनाव आयोग ने कमलनाथ से 48 घंटे में इस पर जवाब मांगा है। वहीं भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) भी कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here