विदिशा में Sahara के निवेशकों का हंगामा, ऑफिस में ताला डाला

sahara

विदिशा, डेस्क रिपोर्ट। मंगलवार को जन सुनवाई शुरू होते ही विदिशा कलेक्ट्रेट में पहुंचे सैकड़ों लोगों ने सहारा इंडिया (Sahara India) कंपनी पर पैसा वापस ना लौटाने की शिकायत कलेक्टर को की। इसके बाद सैकड़ों निवेशक सहारा के विदिशा स्थित ऑफिस पहुंचे और वहां ऑफिस में ताला डाल दिया। निवेशकों ने पैसा ना लौटाने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

MP College: 27 सितंबर से 50% क्षमता के साथ खुलेंगे कॉलेज, मंत्री इंदर सिंह परमार ने कही बड़ी बात

सहारा की मल्टी स्टेट कोऑपरेटिव सोसायटियों में निवेश करने वाले सैकड़ों निवेशक जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे। कलेक्टर कार्यालय पर उन्होंने कलेक्टर उमाशंकर भार्गव को ज्ञापन दिया जिसमें उन्होंने आरोप लगाया कि 2013 के बाद सहारा इंडिया कंपनी उनका पैसा नहीं लौटा रही है, जो मल्टी स्टेट कोऑपरेटिव सोसायटी में निवेश कराया गया था। इन निवेशकों में कई एजेंट भी थे जिनके कहने पर स्थानीय लोगों ने अपना पैसा कंपनी में निवेश तो कर दिया लेकिन कंपनी पैसा वापस नहीं दे रही है, जबकि उसकी परिपक्वता अवधि पूरी हो चुकी है। इसके बाद निवेशक वहां से नारेबाजी करते हुए सहारा इंडिया के विदिशा जिला कार्यालय पहुंचे और वहां उन्होंने गेट पर ताला डालकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। यह लोग सहारा इंडिया हाय हाय के नारे भी लगा रहे थे।

निवेशकों ने चेतावनी दी है कि यदि उनका पैसा वापस नहीं लौटाया गया तो वे सहारा की हाउसिंग की जमीन पर कब्जा कर लेंगे। निवेशकों का यह भी कहना है कि प्रशासन से कई बार शिकायत करने के बाद भी प्रशासन ने आज तक कोई ऐसी बड़ी कड़ी कार्यवाही नहीं की है जिससे सहारा के प्रबंधक उनका पैसा वापस लौटाने के लिए मजबूर हो। उल्लेखनीय है कि पूरे मध्यप्रदेश में सहारा इंडिया और उसके मालिक सुब्रत राय के खिलाफ लगभग 80 एफआईआर (FIR) दर्ज हो चुकी है, बावजूद इसके पुलिस अभी तक ना तो कंपनी के किसी डायरेक्टर, ना सुब्रतो राय पर हाथ डाल पाई है। कई जिलों में तो पुलिस थानों में आवेदन लंबित हैं लेकिन पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही।