पाकिस्तान के पंजाब से हुई थी वेबसाइट हैक, राज कुंद्रा मामले में पुलिस का रुख स्पष्ट

इंदौर आईजी ने साफ किया कि यदि राज कुंद्रा मामले में कोई तार इंदौर से जुड़ते हैं तो पुलिस निश्चित ही कार्रवाई करेगी।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर पुलिस की हैक हुई वेबसाइट को लेकर पुलिस के आला अधिकारियों ने अब साइट को महफूज रखने के लिए nic फार्मेट में शिफ्टिंग का काम शुरू कर दिया है। वही सायबर पुलिस की जांच में हैकर की लोकेशन मिल गई है। पुलिस के मुताबिक हैकर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के साहीवाल इलाके में रहता है। पुलिस ने उसके संबंध में और भी जानकारी निकाली है। इंदौर आईजी ने मीडिया से चर्चा कर बताया कि हैकर की लोकेशन मिलने और उसके द्वारा किये गए कृत्य को ध्यान में रखते हुए अब बेवसाइट का रख रखाव किसी प्रायवेट कंपनी से नहीं करवाया जाएगा बल्कि nic के द्वारा MP Police की जो वेबसाइट बनाई जाती है उस पर शिफ्ट किया जा रहा है जो सुरक्षा मानकों में प्रायवेट एजेंसियों से बेहतर है।

गौरतलब है कि 10 दिन पहले इंदौर पुलिस की बेवसाइट को पाकिस्तान के किसी “मोहम्मद बिलाल टीम पीसीई” नामक हैकर ने हैक कर ली थी और वेबसाइट पर बाकायदा संदेश लिखकर हैक करने का दावा किया था। हैकर ने “कॉन्टेक्ट अस” पेज पर पुलिस के आला अधिकारियों के नाम के स्थान पर आपत्तिजनक संदेश और नारे लिख दिए। जिसमें फ्री कश्मीर और पाकिस्तान जिंदाबाद जैसे नारे लिखे थे। फिलहाल, पुलिस अब सुरक्षा की दृष्टि से वेबसाइट को कड़े सुरक्षा मानकों के आधार पर तैयार करवा रही है।

पाकिस्तान के पंजाब से हुई थी वेबसाइट हैक, राज कुंद्रा मामले में पुलिस का रुख स्पष्ट

राज कुंद्रा केस को लेकर ये कहा आईजी ने

इधर, मुंबई के पोर्न रैकेट के तार इंदौर से जुड़ने की आशंका भी जताई जा रही है।  लिहाजा, इस मामले को लेकर भी इंदौर पुलिस सतर्क है। दरअसल, इंदौर में मुम्बई की ही तर्ज पर मूवी बनाने जैसे मामले पहले उजागर हुए थे जिसमें  इंदौर में एक फार्म हाउस और बंगला किराए पर लेकर फिल्में बनाई गई थी और आशंका बनी हुई है कि वो गिरोह राज कुंद्रा से जुड़ा था।  हालांकि अभी तक इस मामले में कोई भी स्पष्ट तथ्य सामने नहीं आये है।

इस मामले को लेकर इंदौर आईजी हरिनारायणचारि मिश्रा ने कहा कि हालांकि इस मामले से जुड़ा कोई सीधा संपर्क स्थापित नहीं हुआ है और ऐसा कोई तथ्य सामने नहीं आया है। इस तरह के मामलों में वैधानिक दायरों का जब भी उल्लंघन होता है तो पुलिस आगे बढ़कर उसमें कार्रवाई करती आई है। इंदौर आईजी ने साफ किया कि यदि राज कुंद्रा मामले में कोई तार इंदौर से जुड़ते हैं तो पुलिस निश्चित ही कार्रवाई करेगी।