पुराने विवाद पर युवक की हत्या, पत्नी पर भी चाकू से हमला, तीन अन्य पर भी किया अटैक

चीख-पुकार सुनकर आस-पास के लोग बीच-बचाव को पहुंचे तो आरोपी चाकू लहराते हुए मौके से फरार हो गए।

जबलपुर, संदीप कुमार। एक माह पुराने नाली विवाद पर गोरखपुर सांई कॉलोनी में दो रिश्तेदार आपस में भिड़ गए जिसमें एक युवक की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। बीच-बचाव करने पहुंची युवक की पत्नी को भी घायल कर दिया। इसके बाद आरोपी थोड़ी दूरी पर रहने वाले उसके रिश्तेदार के घर पहुंचे। वहां भी 24 वर्षीय महिला और उसके 5 साल के बेटे को चाकू से गोदकर घायल कर दिया। पति बचाने दौड़ा तो उसे लाठी से मारपीटकर भाग गए। घायलों को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

गोरखपुर थाना प्रभारी सारिका पांडे के अनुसार साईंनगर निवासी पुष्पराज कुशवाहा मजदूरी करता है। 18 मई को उसका पड़ोसी विनय कुशवाहा से नाली के पानी बहने को लेकर विवाद हुआ था। तब पुष्पराज और उसके पक्ष के तीन अन्य लोगों ने विनय कुशवाहा के परिवार के साथ मारपीट कर दी थी। इस मामले में गोरखपुर पुलिस ने मारपीट व प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की थी।

ये भी पढ़ें – Indore News: युवाओं की टीम “दानपात्र एप” के जरिये कर रही जरुतमंदों की सेवा

रंजिश में हत्या की वारदात को दिया अंजाम

विनय कुशवाहा इसी मारपीट की रंजिश को लेकर बदला लेने की नीयत से राजा कुशवाहा व रवि कुशवाहा के साथ सोमवार रात पौने 11 बजे पहले पुष्पराज के घर में घुस गया। तीनों चाकू व लाठी-डंडे से लैस थे। तीनों ने पुष्पराज को चाकू से गोद डाला। बचाने पहुंची पत्नी आरती पर भी चाकू से वार कर घायल कर दिया। इसके बाद तीनों आरोपी थोड़ी दूरी पर रहने वाले पुष्पराज के साढ़ू भाई गोलू कुशवाहा के घर पहुंचे। तीनों ने घर में घुसकर गोलू को लाठी-डंडे से तो पत्नी रूचि कुशवाहा और पांच साल के मासूम बेटे प्रतीक पर चाकू से वार कर घायल कर दिया।

ये भी पढ़ें – Indore News: पाकिस्तानी शरणार्थियों के लिए BJP विधायक की बड़ी मांग, मिली मंजूरी

चाकू लहराते हुए फरार हो गए तीनों आरोपी

बदमाशों ने दो घरों में घुसकर लगभग 20 मिनट तक खूनी खेल खेला। चीख-पुकार सुनकर आस-पास के लोग बीच-बचाव को पहुंचे तो आरोपी चाकू लहराते हुए मौके से फरार हो गए। सभी घायलों को पड़ोसियों की मदद से मेडिकल कॉलेज पहुंचाया गया। जहां चिकित्सकों ने पुष्पराज को मृत घोषित कर दिया। वहीं उसकी पत्नी आरती, रिश्तेदार रूचि और उसका बेटा प्रतीक को भर्ती कर लिया गया है। उनकी हालत भी गंभीर बनी हुई है

ये भी पढ़ें – डबरा सिविल अस्पताल में फैली अव्यवस्थाएं देख भड़के विधायक, दिए निर्देश