अंधे कत्ल एवं डकैती का खुलासा, बहू ने प्रेमी के साथ मिलकर की ससुर की हत्या

अज्ञात हथियारबंद डकेतों के द्वारा कुछ दिन पूर्व रात्रि में योजनाबद्द तरीके से डकैती की वारदात कर घर के मालिक की हत्या कर दी गई थी एवं उनकी पत्नि को गंभीर रूप से घायल कर घर से दो भैसे ले गये थे

मुरैना, संजय दीक्षित| रिठौरा थाना क्षेत्र में कुछ दिन पूर्व हुई हत्या (Murder) का पुलिस (Police) ने खुलासा किया है। मृतक हरिया उर्फ हरीसिंह जाटव नि. ग्राम रिठौरा कलां के मकान में अज्ञात हथियारबंद डकेतों के द्वारा कुछ दिन पूर्व रात्रि में योजनाबद्द तरीके से डकैती की वारदात कर घर के मालिक हरिया उर्फ हरिसिंह की हत्या कर दी एवं उनकी पत्नि साबो बाई को गंभीर रूप से घायल कर घर से दो भैसे ले गये थे। जिसमें फरियादिया हरिसिंह की बहु प्रीति जाटव पत्नी स्व.गन्धर्व जाटव उम्र 29 साल नि. रिठौरा कला की रिपोर्ट पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दी।

विवेचना के दौरान पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया के निर्देशन ,अति.पुलिस अधीक्षक डा.हंसराज सिंह एवं एसडीओपी अरविंद सिंह ठाकुर के मार्गदर्शन में पुलिस टीम गठित की गई।जिसमे घायल साबो बाई से पूछताछ के दौरान मुखविर की सूचना के आधार पर संदेह पवन जाटव पुत्र रामरतन जाटव नि. ग्राम रिठौरा कला को पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की गई । जिसके द्वारा घटना को एक नया मोड़ देते हुए बताया कि उसके मृतक हरि सिंह की बहू प्रीति जाटव से करीबन दो वर्ष से अवैध सम्बंध थे प्रीति के पति का करीबन चार माह पहले देहांत हो चुका है और इन सम्बंधों के बीच प्रीति का ससुर हरिसिंह उन दोनों के बीच रोढ़ा बना हुआ था । जो उन्हे मिलने से रोकता व टोकता था जिससे पवन जाटव व प्रीती जाटव ने हरी सिंह को रास्ते से हटाने के लिये प्लान बनाया गया कि घटना में भैसे चोरी होने तथा लूट करने के दौरान विरोध करने पर सास ससुर को मार कर अपना रास्ता साफ हो जायेगा और किसी को संदेह नहीं होगा।

इसी के चलते पवन जाटव ने अपने साथी हरिओम उर्फ हरि राम उर्फ बंटी गुर्जर नि. बस्तपुर हाल रिठौरा कला तथा रिंकू जाटव पुत्र हरिज्ञान नि. चन्दन नगर बहोड़ापुर ग्वालियर तथा शाहरूख खान ,सलीम खान एवं एक अन्य व्यक्ति के द्वारा उसके घर पर लाठी व लोहे की राड से हरि सिंह की मारपीट कर हत्या कर दी तथा पत्नि साबो बाई को गंभीर रूप से घायल करके दो भैंसों को लूटकर ले गये ।इसी दौरान विवेचना में आरोपी पवन जाटव ने पूछताछ में बताया कि घटना दिनांक हरिसिंह के घर से लूटी गई दोनों भैंसे अपने मामा होतम सिंह जाटव नि. वनिया तोर भितरबार ग्वालियर के घर में छुपा कर रखी गई है । जो आरोपी की निशादेही पर ग्राम वनिया तौर से बरामद की गई है एवं घटना में सम्मिलित होने से मामा होतम सिंह जाटव नि वनिया तोर को भी गिरफ्तार किया गया है साथ ही जिस वाहन से भैसे वनिया तोर भेजी गई थी उस वाहन को जप्त कर चालक रिंकू पुत्र हरिज्ञान जाटव नि. चन्दन नगर ग्वा.को गिरफ्तार किया गया है । जिसने भी घटना को साथियों के साथ अंजाम देना कबूल किया है।

प्रकरण की फरियादिया प्रीति जाटव नि, रिठौरा कला के द्वारा ही षणयंत्र पूर्वक घटना को अपने आशिक पवन जाटव एवं उसके साथियों से मिलकर अंजाम दिया है। पूछताछ के द्वारा उसने सम्पूर्ण घटनाक्रम कबूल किया एवं षणयंत्र कर घटना घटित कराने में मुख्य भूमिका निभाई । अतः आरोपिया प्रीति जाटव को प्रकरण में गिरफ्तार किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here