मुरैना में कथित तौर पर फर्जी मतदान का वीडियो वायरल, जाँच शुरू

मुरैना, संजय दीक्षित। अंबाह विधानसभा के शासकीय प्राथमिक विद्यालय चापक मतदान केंद्र पर 3 नवंबर को कथित तौर पर फर्जी मतदान (fake voting) करने का वीडियो वायरल (video viral) हुआ है।  वीडियो में दिख रहा है कि मतदान के दौरान पीठासीन अधिकारी के पास एक युवक मोबाइल लेकर पहुंचा। इसके बाद पीठासीन अधिकारी ने मोबाइल पर किसी प्रभावशाली व्यक्ति से बात की और जो युवक मोबाइल लेकर आया उसकी बात मानने को राजी हो गया। फर्जी मतदान से जोड़कर अब ये वीडियो सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हो रहा है।

यह वीडियो अंबाह विधानसभा के पोरसा ब्लॉक में आने वाले चापक पोलिंग बूथ क्रमांक 264 का है। इसमें एक युवक जिसे स्थानीय नेता बताया गया है। वह चार पांच लोगों के साथ दौड़ते हुए मोबाइल लेकर बूथ के अंदर बैठे पीठासीन अधिकारी के पास पहुंचता है। उक्त युवक फोन पर किसी से कहता है कि पीठासीन अधिकारी राउगढ़ के रहने वाले केएल शर्मा हैं, जो मुरैना कमिश्नर ऑफिस में है। इसके बाद युवक मोबाइल को पीठासीन अधिकारी को देता है। पीठासीन अधिकारी पूछते हैं कौन से बात करना है। इस पर युवक कहता है कि नरेंद्र भाई साहब से। इसके बाद पीठासीन अधिकारी कहते सुनाई दे रहे हैं कि हां मैं जानता हूं, और मोबाइल ले लेते हैं। मोबाइल रखते ही पीठासीन अधिकारी कह रहे हैं कि हां भाई साहब नमस्कार। अरे आप प्रहलाद बाथम भाई साहब के साथ आते रहते थे। हम कुछ कह नहीं रहे। हओ ठीक है, कोई दिक्कत नहीं, जैसे जो करन चाहे, कोई दिक्कत नहीं। इसके बाद फोन को वापस युवक को देते हैं। इसके बाद वो युवक कहता है कि तो शर्मा जी अब करवा दो। इसके बाद पीठासीन अधिकारी कहते हैं कि भीड़ मत करना और इतना ज्यादा भी मत करना कि दिक्कत हो जाए। इस इस बातचीत का वीडियो फर्जी वोटिंग के नामपर वायरल हो रहा है।

सबसे खास बात यह है कि इस मतदान केंद्र पर 860 कुल मतदाता है उनमें से 728 के वोट डाले गए हैं। इसी से ही अंदाजा लगाया जाता है कि फर्जी मतदान हुआ है। इस पूरे मामले में कलेक्टर अनुराग वर्मा ने बताया कि अंबाह विधानसभा के चापक मतदान केंद्र का वीडियो मेरे संज्ञान में आया है। उसकी जांच करवा रहे हैं। जो भी तथ्य सामने आएंगे ।उसके हिसाब से संबंधित खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here