नरोत्तम मिश्रा ने कहा- कांग्रेस सरकार गिराने का श्रेय ऐदल सिंह कंसाना को

मुरैना, संजय दीक्षित। सुमावली प्रत्याशी ऐदल सिंह कंसाना के निज निवास व्हाइट हाउस पर आम सभा को संबोधित करते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कमलनाथ की सरकार किसने गिराई है, कोई कह रहा है कि नरोत्तम मिश्रा ने गिराई है, कोई कह रहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गिरायी है, लेकिन यह सब गलत है। एदल सिंह से हमारी पुरानी दोस्ती है और मैं कसम खाकर कह रहा हूं कि कांग्रेस की सरकार गिराने में सुमावली प्रत्याशी ऐदल सिंह कंसाना का हाथ है।

एक कहावत है “यारी है ईमान मेरा यार मेरी जिंदगी”। जब कमलनाथ की सरकार बन रही थी और शपथ ग्रहण हो रहा था, उस समय ऐदल सिंह को मंत्रिमंडल में नहीं लिया गया था।उस समय हम दोनों अकेले बैठे थे। मैं विपक्ष में था और ऐदल सिंह सरकार में होकर भी विपक्ष में बैठे थे। उसी दिन सरकार गिराने का बीजारोपण हुआ। मुझे बताया गया कि ऐदल सिंह के लड़कों ने चंबल पर हाईवे को जाम कर दिया था लेकिन उन्होंने वहां से मना किया कि ऐसा मत करो। कमलनाथ और दिग्विजय सिंह ने भाई भतीजे को मंत्री बना दिया। हम दोनों एक दूसरे के गम बांट रहे थे। मुझे गम इसका था कि मेरी सरकार नहीं बनी और ऐदल सिंह को गम था कि सरकार बनी लेकिन मंत्री नहीं बने। आग दोनों तरफ लगी हुई थी। पार्टी के लोग बदलते रहे लेकिन हम दोनों भाई एक परिवार की तरह रह रहे थे। ऐदल सिंह का संघर्ष सुमावली के विकास और किसानों के लिए संघर्ष था। जब भी कमलनाथ के पास जाते कि सुमावली का विकास किया जाए, लेकिन वहां से गुस्से में आते तो कहते थे कि चलो चलो इनका हमेशा खजाना खाली रहता है। जब भी सड़क, बिजली और पानी की बात करो तो इनका हमेशा खजाना ही खाली रहता है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि 10 दिन में 2 लाख रुपए का किसानों का कर्जा माफ कर देंगे नहीं तो मुख्यमंत्री को बदल देंगे ,लेकिन आज तक किसी के खाते में 2 लाख तक की राशि नहीं आई है। जो किसान और युवाओं को धोखा दे उसको गद्दारी कहते हैं। जब-जब स्वाभिमान व्यक्ति के सम्मान के साथ चोट होगी तो सत्ता बदल जाएगी।

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि मध्य प्रदेश के अंदर सरकार बनी है तो उसमें सबसे बड़ी भूमिका है सुमावली विधानसभा के प्रत्याशी ऐदल सिंह कंसाना की। मुझे प्रदेश अध्यक्ष के नाते जिम्मेदारी मिली थी उस समय ऐदल सिंह कंसाना ने कहा था की चाहे कोई भी इधर उधर हो जाए लेकिन मैं पार्टी में ही रहूंगा। कमलनाथ प्रदेश के दूसरे नंबर के उद्योगपति हैं। छिंदवाड़ा की गरीब जनता को मैंने देखा है। यह झोला लेकर आए थे। सब लोगों ने हमसे पूछा कि कमलनाथ छिंदवाड़ा में गरीब जनता के बीच में झोला लेकर आए थे जो उद्योगपति कैसे बन गए। कमलनाथ ने जनता को लूटने का काम किया है। मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने कोई विकास नही किया है। चंबल के मान सम्मान को आहत करने का काम किया है। अगर केवल छिंदवाड़ा की चिंता करेगा तो इस मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री नहीं रहेगा। इस अवसर पर पूर्व विधायक परशुराम मुद्गल, जिलाध्यक्ष योगेश पाल गुप्ता, नागेंद्र तिवारी, रामनरेश शर्मा, केडी दंडोतिया, बल्लो सरपंच, मयंक शर्मा, के एन मिश्रा सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here