MP उपचुनाव 2020 : अजय सिंह का सिंधिया समर्थकों को लेकर दावा हुआ फेल!

AJAY SINGH

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। जनता के फैसले के बाद मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) सियासत की तस्वीर साफ हो गई है। 28 में से 19 सीटों परBJP ने जीत का परचम लहराकर प्रदेश की शिवराज सरकार (Shivraj Government) ने 126 के पूर्ण बहुमत हासिल कर लिया है। 7 सीटों पर सिमटी कांग्रेस (Congress) के सारे वादे और दावे फेल हो गए है।इसके साथ ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह (Ajay Singh) का वो दावा भी फेल हो गया है जिसमें उन्होंने ग्वालियर चंबल में सिंधिया समर्थकों के हारने की बात कही थी।

दरअसल, बीते दिनों कांग्रेस प्रत्याशियों (Congress candidate) के प्रचार के दौरान एक चुनावी सभा में अजय सिंह ने दावा करते हुए कहा था कि ग्वालियर- चम्बल (Gwalior-Chambal) की 16 सीटों मे भाजपा का खाता नहीं खुलेगा, सभी ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) समर्थक हारेंगे। इसके साथ ही उन्होंने यह भी दावा किया था कि सिंधिया के साथ गद्दारी कर भाजपा में शामिल हुए सभी 16 विधायक जो चंबल क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं, यदि वे सभी नहीं हारे तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा। हालांकि बाद में उन्होंने सफाई दी थी कि चुनाव के दौरान कई तरह की बातें बोलनी पड़ती है, लेकिन जरूरी नहीं कि सबपर अमल किया जाए। कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए बहुत कुछ बोलना पड़ता है, लेकिन जरूरी नहीं वो पत्थर की लकीर हो।

यह भी पढ़े…राजनीति से सन्यास लेने के बयान पर अजय सिंह ने दी सफाई, कही ये बात

10 नवंबर (10 November) को घोषित हुए चुनाव परिणाम अजय सिंह का दावा (Claim) फेल हो गया है। 19 सिंधिया समर्थकों में से 13 ने जीत दर्ज की है, वही 3 मंत्री ऐंदल सिंह कंसाना (Aindal Singh Kansana), इमरती देवी(Imrati Devi) , गिर्राज दंडोतिया (Girraj Dandotia) के साथ जसमंत जाटव, रणवीर जाटव, रघुराज कंसाना और मुन्नालाल गोयल भी चुनाव हार गए है, वही कई पूर्व विधायकों को भी जीत हासिल ना हो सकी। हालांकि यह नही कहा जा सकता है कि अजय सिंह का दावा पूर्ण तरह से फेल हुआ है लेकिन काफी हद तक सिंधिया समर्थक अपनी सीटे निकालने में और सिंधिया अपनी साख बचाने में कामयाब हुए है।

यह भी पढ़े…अजय सिंह का दावा- चंबल में सिंधिया समर्थक नहीं हारे तो राजनीति छोड़ दूंगा

बता दे कि 28 में से 19 सीटें जीतकर भाजपा 107 से 126 सीटों पर पहुंच गई जो बहुमत के आंकड़े 115 से 11 सीटें ज्यादा है।वही कांग्रेस 9 सीटे जीत 87 से 96 पर पहुंच गई है। वर्तमान में 229 विधानसभा सीटे है, एक सीट दमोह विधायक राहुल सिंह लोधी (Rahul Singh Lodhi) के कांग्रेस से इस्तीफा देने पर खाली हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here