अनूपपुर उपचुनाव: मैदान में 12 प्रत्याशी, वोटिंग से पहले घर-घर किया जनसंपर्क

3 नवम्बर की सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक 251 बूथों पर मतदान सम्पन्न कराए जाएंगे।

अनूपपुर, वेद शर्मा| प्रदेश के अनूपपुर विधानसभा (Anuppur assembly) सहित 28 विधानसभा क्षेत्रों में 3 नवम्बर को सम्पन्न होने वाले उपचुनाव सत्ताधारी भाजपा, विपक्षी पार्टी कांग्रेस दोनों के लिए यह काफी महत्वपूर्ण है। प्रचार समाप्ति के बाद 2 नवबंर को उम्मीदवारों ने मतदाताओं के घरों में दस्तक देकर अपने पक्ष में मतदान की अपील की। 3 नवम्बर की सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक 251 बूथों पर मतदान सम्पन्न कराए जाएंगे।

उपचुनाव में अपनी किस्मत आजमाने 12 प्रत्याशी चुनावी मैदान में उतरे हैं। लेकिन अबतक हुए चुनाव के प्रचार प्रसार और मतदाताओं की खामोशी में इनके चेहरो पर चिंता की लकीर खींच दी है। हर उम्मीदवार अपनी जीत के लिए दांव पेंच आजमा चुकें है। रविवार 1 नवम्बर को चुनावी प्रचार प्रसार थमने के बाद सोमवार को उम्मीदवारों ने मतदाताओं घर-घर पहुंच हाथ जोड़ कर अपनी जीत को अश्वस्त किया। कोविड गाइडलाइन अनुसार उम्मीदवार अपने लाव लाश्कर लेकर नहीं बल्कि

छोटे-छोटे समूहों में जनसम्पर्क अभियान में चलाया
अनूपपुर विधानसभा अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित अनूपपुर विधानसभा सीट हैं| जहां उपचुनावी मैदान में पूर्व की भांति दो मुख्य राजनीतिक पार्टियों के प्रत्याशियों में भाजपा के बिसाहूलाल सिंह और कांग्रेस के विश्वनाथ सिंह कुजांम के बीच है। जहां विश्वनाथ पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ रहे हैं, वहीं बिसाहूलाल सिंह के लिये विधानसभा का यह नौवां चुनाव है। बिसाहूलाल 5 बार विधायक रह चुके हैं। दिग्विजय शासन काल में 10 साल तक कैबनेट मंत्री रहे। कमलानाथ सरकार में मंत्री नहीं बनाये जाने से नाराज बिसाहूलाल इस्तीफ़ा देकर भाजपा में शामिल हो गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here