बीजेपी नेता की फिसली जुबान, अब इस महिला नेत्री को कहा एटम बम

अभिलाष पांडे ने कहा कि इमरती देवी (imarti devi) आइटम बम नहीं बल्कि एटम बम है जो 28 विधानसभा क्षेत्रों में जब फटेगी तो कांग्रेस को धूल चटा देंगी। अभिलाष पांडे ने यह भी कहा कि कांग्रेस नेता महिलाओं पर अभद्र टिप्पणी करते हैं और यह टिप्पणी या महिलाओं के प्रति उनकी मानसिकता और सोच को बताती हैं।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (former chief minister kamalnath) द्वारा मध्यप्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री (child &women devolepment minister) को डबरा की एक जनसभा में आइटम item कहने का मुद्दा अभी शांत भी नहीं हुआ है कि अब भारतीय जनता युवा मोर्चा (bhartiya janta yuva morcha) के प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे (state president abhilash pandey) ने एक बयान देकर एक नए विवाद को जन्म दे दिया है।

गुना में चुनाव प्रचार के दौरान अभिलाष पांडे ने कहा कि इमरती देवी (imarti devi) आइटम बम नहीं बल्कि एटम बम है जो 28 विधानसभा क्षेत्रों में जब फटेगी तो कांग्रेस को धूल चटा देंगी। अभिलाष पांडे ने यह भी कहा कि कांग्रेस नेता महिलाओं पर अभद्र टिप्पणी करते हैं और यह टिप्पणी या महिलाओं के प्रति उनकी मानसिकता और सोच को बताती हैं। गौरतलब है कि कमलनाथ द्वारा इमरती देवी के बारे में की गई टिप्पणी को लेकर देशभर में बवाल चल रहा है और राष्ट्रीय महिला आयोग से लेकर चुनाव आयोग तक कमलनाथ को इस भाषा को लेकर जवाब तलब कर चुका है ।

Read More: उपचुनाव से पहले कांग्रेस का एक्शन – पूर्व जनपद पंचायत अध्यक्ष रामसिंह पारिया निष्कासित

बावजूद इसके एक बार फिर इस तरह की बयानबाजी राजनीतिक हलकों में चर्चा का विषय बन गई है ।कांग्रेस का कहना है कि कमलनाथ ने किसी भी रूप में आइटम शब्द का प्रयोग इमरती देवी के प्रति अपमान के रूप में नहीं किया था लेकिन अब बीजेपी के नेता जब खुद उन्हें एटम बम कह रहे हैं तो यह सोच बताती है कि बीजेपी के नेता अपनी ही पार्टी की वरिष्ठ नेता के प्रति किस तरह की सोच रखते हैं और अनुसूचित जाति की महिला के प्रति इस तरह की सोच पार्टी के दृष्टिकोण को भी बताती है।

कांग्रेस इस बयान को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत भी करने जा रही है। हालांकि बीजेपी के प्रवक्ता दुर्गेश केसवानी ने इस बयान पर अभिलाष पांडे का बचाव करते हुए कहा है कि एटम बम शक्ति का प्रतीक है और अभिलाष पांडे का बयान इमरती देवी जैसी महिलाओं की शक्ति का प्रगटीकरण है जो फर्श से लेकर अर्श तक पहुंची और आज इस स्थिति में है कि बड़े से बड़े नेताओं को धूल चटाने का माद्दा रखती है ।कांग्रेस और बीजेपी के तर्क अपनी अपनी जगह है लेकिन यह बयान एक बार फिर राजनीतिक हलकों में हंगामा बरपायेगा ,इस संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।