भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का आरोप, दिग्विजय के ईशारों पर गुंडागर्दी कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ता

मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर मतदान जारी है। मतदान को लेकर मतदाताओं में विशेष उत्साह देखने को मिल रहा है और वह बड़ी संख्या में पोलिंब बूथ पर पहुंच कर वोट डाल रहे हैं।

vdsharmaa

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में 28 विधानसभा सीटों (Assembly seats) पर मतदान जारी है। मतदान को लेकर मतदाताओं में विशेष उत्साह देखने को मिल रहा है और वह बड़ी संख्या में पोलिंब बूथ पर पहुंच कर वोट डाल रहे हैं। भाजपा (bjp) और कांग्रेस (congress) की पैनी नजर भी मतदान केन्द्रों पर है। वहीं मतदान के बीच भी राजनेताओं में आरोप प्रत्यारोप जारी है। पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह (digvijay singh) ने उपचुनाव में मतदान के दौरा एवीएम मशीन (evm machine) हैक होने की आशंका जताई है। तो वहीं दूसरी तरफ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा (vd sharma) ने दिग्विजय सिंह पर चुनाव को प्रभावित करने के लिए उनके ईशारों पर गुंडागर्दी के आरोप लगाए है।

प्रदेश में जारी मतदान के बीच भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा भाजपा कार्यालय स्थित चुनाव कंट्रोल रूम पहुंचे। यहां उन्होंने शिकायतों और मतदान प्रतिशत की जानकारी ली है। इस दौरान वीडी शर्मा ने विभिन्न मतदान केन्द्रों से मिल रही शिकायतों के लिए दिग्विजय सिंह पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि दिग्विजय सिंह उपचुनाव के परिणाम को प्रभावित करना चाहते है और उनके इशारों पर कांग्रेस कार्यकर्ता पोलिंग बूथों पर गुंडागर्दी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उपचुनाव के अच्छे रुझान आ रहे हैं। जनता मतदान के प्रति जागरूक है।

वहीं इससे पहले दिग्विजय सिंह भी ट्वीट कर एवीएम से वोटिंग में गड़बड़ी की आशंका जता चुके हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा था ‘तकनीकी युग में विकसित देश ईवीएम पर भरोसा नहीं करते पर भारत व कुछ छोटे देशों में इवीएम से चुनाव होते हैं। विकसित देश क्यों नहीं कराते? क्योंकि उन्हें इवीएम पर भरोसा नहीं है। क्यों? क्योंकि जिसमें चिप है वह हैक हो सकती है। बता दे कि प्रदेश में हो रहे उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। मतदान के दौरान ही सीएम शिवराज (cm shivraj) और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (kamalnath) भी मतदान के बीच वोटरों से मतदान केन्द्र पहुंचकर वोट डालने की अपील कर चुके है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here