उपचुनाव: फूल सिंह बरैया का रानी लक्ष्मीबाई पर विवादित बयान, सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

फूल सिंह बरैया महारानी लक्ष्मी बाई पर विवादित टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि रानी लक्ष्मीबाई 1 मिनट नहीं लड़ी। वह बच्चे को लेकर भाग गई थी और उसके बाद उन्होंने आत्महत्या कर लिया था।

ग्वालियर, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) में सियासी माहौल पल-पल बदलता नजर आ रहा है। वहीं लोग प्रत्याशियों के पुराने वीडियो (old video) शेयर कर उन पर निशाना साध रहे हैं। इस बीच फूल सिंह बरैया (phool singh baraiya) का एक वीडियो तेजी से सोशल मीडिया (social media) पर वायरल (viral) किया जा रहा है। जिसमें 2015 में ग्वालियर (gwalior) में आरक्षण बचाओ सभा के दौरान उन्होंने महारानी लक्ष्मी बाई (Maharani Laxmibai) पर विवादित टिप्पणी की थी। अब उनके इस वीडियो को तेजी से शेयर किया जा रहा है।

दरअसल 2015 में ग्वालियर की आरक्षण बचाओ सभा में फूल सिंह बरैया ने महारानी लक्ष्मी बाई पर विवादित टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि रानी लक्ष्मीबाई 1 मिनट नहीं लड़ी। वह बच्चे को लेकर भाग गई थी और उसके बाद उन्होंने आत्महत्या कर लिया था। जबकि हम पढ़ते हैं “खूब लड़ी मर्दानी, वह तो झांसी वाली रानी” थी।

फूल सिंह बरैया यहीं नहीं रुके। उन्होंने आगे कहा था कि आखिर आत्महत्या करने वाले को वीरांगना क्यों कहा जाता है। इसके साथ ही साथ बरैया इतिहास पढ़ने की सलाह भी देते नजर आ रहे हैं। यह वीडियो 5 साल पुराना है लेकिन अब एक बार फिर फूल सिंह बरैया मध्य प्रदेश के भांडेर से उपचुनाव में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। जिसके बाद उनके इस पुराने वीडियो को सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल किया जा रहा है।

Read More: चुनाव आयोग के इस निर्णय पर दिग्विजय ने उठाए सवाल, बोले- पूरी निष्पक्षता दिखाए आयोग

हालांकि फूल सिंह बरैया और विवादित टिप्पणी का इतिहास नया नहीं है। अभी हाल ही में उन्होंने दलित और मुसलमानों के डीएनए को लेकर एक विवादित टिप्पणी दे दी थी। जिससे मुस्लिम समुदाय ने उनके प्रति कड़ा रोष व्यक्त किया था। बरैया ने कहा था कि दलित और मुसलमान का डीएनए (DNA) समान है। वह दोनों एक ही पिता की औलाद है।

वही सवर्ण महिलाओं पर भी फूल सिंह बरैया ने आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। जिसके बाद चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस जारी किया था। अब ऐसे में 5 साल बाद फिर से उपचुनाव में महारानी लक्ष्मी बाई पर किए उनके इस विवादित बयान का उनके मतदान पर कितना असर पड़ता है। यह तो वक्त ही बताएगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here