सीएम शिवराज का कांग्रेस पर तंज, कहा- पार्टी में कुछ नहीं बचा है, कोई भी वहां नहीं रहना चाहता है

सीएम शिवराज कहते है कि अगर कोई कांग्रेस छोड़ के भाजपा में शामिल हो जाता है तो कांग्रेस के नेता दिग्विजय सिंह और कमलनाथ उस पर बीकने का आरोप लगा देते है

शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में होने वाले उपचुनाव (byelection) को लेकर भाजपा (bjp) और कांग्रेस (congress) के बीचे बयान बाजी का दौर जारी है। कमलनाथ (kamalnath) के महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी (imarti devi) पर की गई टिप्पणी के बाद इस बयानवॉर  ने तूल पकड़ लिया है। उपचुनाव (byelection) के लिए दोनों पार्टियों द्वारा जोरो शोरो ने चुनावी सभाएं संबोधित की जा रही है।

वहीं आज मंदसौर (mandsaur) में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज (Madhya Pradesh CM Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि कांग्रेस (congress) में कुछ नहीं बचा है और कोई भी वहां नहीं रहना चाहता है। सीएम शिवराज (CM Shivraj) आगे कहते है कि अगर कोई कांग्रेस (congress) छोड़ के भाजपा (bjp) में शामिल हो जाता है तो कांग्रेस के नेता दिग्विजय सिंह (digvijaya singh) और कमलनाथ (kamalnath) उस पर बीकने का आरोप लगा देते है। कांग्रेस तो मोतीलाल नेहरू और सुभाष चंद्र बोस ने भी छोड़ दी थी। वहीं इंदिरा जी ने भी कांग्रेस छोड़ दी, दिग्विजय सिंह के भाई ने भी कांग्रेस छोड़ दी थी। कांग्रेस में ऐसा क्या बचा है कि कोई वहां रहेगा? ।

 

सीएम आगे कहते है कि, “मध्य प्रदेश में कांग्रेस की स्थिति ऐसी है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ थे, विपक्ष के नेता कमलनाथ हैं, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ हैं और युवा नेता नकुल नाथ हैं।” वहीं सीएम शिवराज ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा नेता इमरती देवी पर कमलनाथ की टिप्पणी (“आइटम” टिप्पणी) पर, पूर्व सीएम माफी मांगने से इनकार कर रहे हैं। कमलनाथ की उम्र 74 साल है, उन्होंने एक मंत्री के खिलाफ ऐसी टिप्पणी की।

ये भी पढ़े- उपचुनाव में ‘धनवान’ का बोलबाला, बीजेपी के 23 और कांग्रेस के 22 उम्मीदवार करोड़पति

राहुल गांधी (rahul gandhi) ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है और वह माफी मांग रहे हैं। लेकिन वहीं कमलनाथ कह रहे है कि वो माफी नहीं मांगेंगे। आगे सीएम ने कहा कि देश में राहुल और सोनिया की कांग्रेस है, लेकिन मध्य प्रदेश में कमलनाथ की कांग्रेस है। कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ करने का वादा किया था, लेकिन उसे भी पूरा नहीं किया। शिवराज ने आगे कहा, “कांग्रेस कहती है कि शिवराज अयोग्य हैं। उनके एक नेता ने कहा कि शिवराज एक गरीब (भूखा-नंगा) परिवार से आते हैं। वहीं एक अन्य नेता का कहना है कि शिवराज बहरे हैं। एक अन्य कांग्रेस नेता ने कहा कि शिवराज कमलनाथ के पैरों की धूल के बराबर भी नहीं हैं। ये तो कांग्रेस के मुद्दे हैं। ”

ये भी पढ़े- कांग्रेस का बड़ा आरोप, बीजेपी ने 50 करोड़ में खरीदा एक और विधायक

शिवराज ने आगे कहा कि कांग्रेस ने उनके शासन के दौरान मध्य प्रदेश को नष्ट कर दिया और वो कड़ी मेहनत के माध्यम से राज्य के भाग्य को बदलने के लिए प्रतिबद्ध हैं। सीएम कहते है कि मैं 2018 में मुख्यमंत्री बन सकता था, लेकिन मैं नहीं बना। क्योंकि मैं चाहता था कि कमलनाथ को सरकार चलाने का मौका मिले। मुझे लगा कि वे कुछ काम करेंगे लेकिन उन्होंने मध्य प्रदेश को तबाह कर दिया। मैं अपनी शान बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी पर नहीं हूं। मैं कड़ी मेहनत करूंगा और मध्य प्रदेश का भाग्य बदलूंगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here