-big-statement-of-minister-Sajjan-Verma--target-on-Modi's-Kedarnath-yatra

देवास/ हाटपिपल्या, सोमेश उपाध्याय। शनिवार को पूर्व सीएम कमलनाथ (kamalnath) की सभा के दौरान पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा (sajjan singh verma) व कांग्रेस (congress) प्रत्याशी के मध्य आंतरिक कलह के वीडियो वायरल होने के बाद वर्मा भडक़ गए। वर्मा ने गुटबाजी को सिरे से नकारते हुए इसे बीजेपी की साजिश करार दिया है।

पूर्व मंंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने रविवार को मीडिया से बातचीत करते हुए गुटबाजी की खबरों को को सिरे से नकारते हुए इसे बीजेपी की साजिश करार दिया। पूर्व मंत्री यही तक नही रुके बल्कि मीडिया को भी बिकाऊ मीडिया की संज्ञा दे दी। वर्मा ने कहा कि मेरा खून लाल और ईमानदार है, मेरी पहचान यारबाजी की है। गौरतलब है कि शनिवार को हाटपिपल्या में आयोजित हुई सभा में ठा.राजेन्द्र सिंह बघेल व सज्जन सिंह वर्मा के बीच की दूरी नजर आई थी। राजनीतिक चालों में माहिर सज्जन सिंह वर्मा ने पूरी सभा के दौरान अपना वर्चस्व कायम रखा। कांग्रेस प्रत्याशी अपने पिता का भाषण करवाना चाहते थे, परन्तु ऐनवक्त पर वर्मा ने खुद माइक पकड़ आमंत्रितों को बुलाना शुरू कर दिया। प्रत्याशी बघेल द्वारा अनुरोध करने पर उन्होंने समय का हवाला देकर टाल दिया।

एमपी ब्रेकिंग नही करता खबरों से समझौता-
हम पुन: अपने लाखो पाठकों व दर्शकों को विश्वास दिलाना चाहते है कि एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ कभी भी खबरों से समझौता नही करता इसलिए हर खबर को निष्पक्षता से सामने लाते है।यही कारण है उपचुनाव में हमने किसी भी दल के जीत के दावे नही किए। केवल धरातल जमीनी स्थिति से ही पाठकों को अवगत कराया है। इसलिए कोई भी दल हम पर बिकाऊ मीडिया का आरोप नही लगा सकता।