इंदौर सांसद का तंज, कहा- मैं नहीं, जनता बोल रही है कमलनाथ को कमरनाथ

इंदौर सांसद शंकर लालवानी (Indore MP Shankar Lalwani) ने कहा कि मैं नही बोल रहा बल्कि ग्रामीण बोल रहे है कि ये कमलनाथ (kamalnath) नही बल्कि कमरनाथ (kamarnath) है क्योंकि तस्वीर में पूर्व सीएम का हाथ अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज (Actress Jacqueline Fernandez) की कमर पर है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश में उपचुनाव (MP Byelection 2020) के लिहाज से वार पलटवार अपने शबाव पर है। इसी के चलते बीजेपी (bjp) के इंदौर (indore) मीडिया सेंटर से हर रोज कांग्रेस (congress) और पूर्व सीएम कमलनाथ (former CM Kamalnath) पर हमला बोला जा रहा है। नेताओं की चल रही जुबानी जंग में अब बीजेपी सांसद शंकर लालवानी (BJP MP Shankar Lalwani) भी उतर आए है। उन्होंने एक तस्वीर को मीडिया से साझा कर पीसीसी चीफ कमलनाथ (kamalnath) पर निशाना साधा और कहा कि गांव की एक बहन ने मुझे बताया कि ये कमलनाथ जी नही बल्कि कमरनाथ है।

ये भी पढ़े – उपचुनाव: इस सीट का रहा है दिलचस्प इतिहास, कभी राजनारायण नहीं तो कांग्रेस नहीं का दौर भी चला!

दरअसल, जो तस्वीर बीते कई दिनों से सोशल मीडिया पर वायरल है उस तस्वीर को सांसद शंकर लालवानी ने दिखाया और कहा कि ये मैं नही बोल रहा बल्कि ग्रामीण बोल रहे है कि ये कमलनाथ नही बल्कि कमरनाथ है क्योंकि तस्वीर में पूर्व सीएम का हाथ अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज की कमर पर है।

 

इतना ही नहीं सट्टा बाजार (Speculative market) के सर्वे में बीजेपी (bjp) की हालत खराब होने के सवाल पर सांसद शंकर लालवानी ने तपाक से कहा कि मैं जब इंदौर से लोकसभा (loksabha) लड़ा था तब भी सट्टा बाजार कांग्रेस को जीता रहा था। लेकिन बाद में, मैं देश में सबसे ज्यादा वोट से जीतने वाला सांसद बना। उन्होंने इस दौरान सांसद लालवानी ने ये भी कहा कि कांग्रेसियों की सेटिंग रहती है सट्टा बाजार वालो से।

 

इधर, सांवेर (sanwer) में जीत के प्रति आशान्वित नजर आये शंकर लालवानी (shankar lalwani) ने कहा कि सांवेर में कांग्रेस वैसे ही डरी हुई है और सांवेर में नहीं दिख रही है और हमने जहां जहां भी लोगों से पूछा तो उन्होंने कहा कि कांग्रेस (congress) से तो कोई आ ही नहीं रहा है। उन्होंने कहा उपचुनाव गांव, गरीब, किसान और पूंजीपतियों के बीच का चुनाव है। उन्होंने कहा कि हमारे सीएम शिवराज गांव गांव घूमते है और कांग्रेस के सीएम कमलनाथ सिर्फ वल्लभ भवन में बैठकर ही सरकार चलाते थे जो सबको पता है।

ये भी पढ़े- उपचुनाव: इस सीट का रहा है दिलचस्प इतिहास, कभी राजनारायण नहीं तो कांग्रेस नहीं का दौर भी चला!

हमारे सीएम सभी से सहज रूप से मिलते है और कांग्रेस के जो सीएम थे वो सिर्फ पूंजीपतियों और दलालों से ही मिलते थे यहां तक कि कांग्रेस के सीएम अपने विधायकों और मंत्रियों से भी नहीं मिलते थे जिसकी चर्चा भोपाल सहित प्रदेशभर में आम है। उन्होंने एक तरफ जमीन से जुड़े मुख्यमंत्री है तो दूसरी तरफ हवा हवाई मुख्यमंत्री थे जो सिर्फ हवा में बात करते थे।

वहीं उन्होंने तुलनात्मक रूप से कहा कि हमारे सीएम कन्याओं का पूजन करते है महिलाओ का सम्मान करते है तो दूसरी तरफ कांग्रेस के सीएम महिलाओं के बारे में किस तरह से टिप्पणी करते है ये हम सबको पता है। वही उन्होंने कहा कि उनके आका भी कह रहे है कि ये जो भाषा ये ठीक नही है लेकिन कमलनाथ को जरा सी अफसोस नही है कि मैंने जो बोला है उस पर मैं खेद व्यक्त करूँ और वे अपने आका की ही बात नही मान रहे है।

इसके अलावा इंदौर में पूर्व की कमलनाथ सरकार द्वारा गरीब, किसान, महिलाओं और आम जन की योजनाओं को बंद करने पर कांग्रेस और पूर्व सीएम कमलनाथ पर सवाल उठाए और कहा कि उन्हें आईफा से प्यार था प्रदेश के विकास से नही।

फिलहाल, इंदौर में सांवेर सीट पर जीत हासिल करने के लिए बीजेपी एडी चोटी का जोर लगा रही है ताकि किसी भी हाल में सिलावट को जिताया जा सके। लिहाजा, हर रोज बीजेपी के वार रूम से कांग्रेस पर जमकर जुबानी हमला बोला जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here