भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) की 28 सीटों पर हुए उपचुनाव (Byelection) के नतीजों से भाजपा (BJP) में ख़ुशी की लहर है | परिणामों से सबसे ज्यादा अगर किसी को ख़ुशी हुई है तो वो है ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) | क्यूंकि इस उपचुनाव में सिंधिया की प्रतिष्ठा दांव पर थी| भाजपा में शामिल होने के फैसले के बाद से ही कांग्रेस ने उन पर ‘गद्दार’ का तमगा लगा दिया था| लेकिन जनता पर कांग्रेस के इस आरोप का ज्यादा असर नहीं हुआ| नतीजों के बाद सिंधिया का बयान सामने आया है| उन्होंने कहा कि जनता ने यह स्पष्ट कर दिया है कि गद्दार कौन है|

बीजेपी नेता व राज्य सभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने बयान में कहा कि मैं भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता हूं। पार्टी के पक्ष में स्पष्ट जनादेश देने के लिए मैं राज्य के लोगों का आभारी हूं। वहीं उन्होंने कांग्रेस के ‘गद्दार’ वाले आरोप पर कहा कि नतीजों ने स्पष्ट कर दिया है कि गद्दार कौन हैं| सिंधिया ने कहा गद्दार कमलनाथ और दिग्विजय सिंह हैं, जिन्होंने भ्रष्टाचार का अड्डा बल्लभ भवन को बना दिया था| जनता ने भाजपा के पक्ष में और कांग्रेस के विरुद्ध स्पष्ट जनादेश दे दिया है, जिसे कांग्रेस अब भी स्वीकार नहीं कर रही है| लेकिन स्पोर्ट्समैन स्पिरिट में हार को स्वीकार करना चाहिए|

सिंधिया ने कहा जब भी चुनाव हारने की बारी आती है तो ईवीएम पर प्रश्न उठाया जाता है| जब चुनाव जीत जाते हैं तो ईवीएम सही होती है| ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठाकर लोगों के जनादेश को ठुकराना कांग्रेस की आदत बन गई है। यदि कांग्रेस ऐसा करती रही, तो वो उसी स्थान पर रहेगी जहाँ वो हैं या शायद उससे भी बदतर स्थिति में चली जायेगी|