सांवेर उपचुनाव Live Update : नेहरु स्टेडियम में कांग्रेस का हंगामा, मतगणना में गड़बड़ी के आरोप

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh) की 19 जिलों की 28 सीटों पर हुए उपचुनावों (By-election) के नतीजे आना शुरु हो गए है। बैलेट पेपर (Ballot Paper) और EVM के मतों की गिनती शुरु हो गई है।आज शाम तक मध्यप्रदेश (MP By-election) की तस्वीर साफ हो जाएगी कि 15 महिनों में ही सत्ता से बाहर हुई कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) धमाके के साथ एंट्री करेगी या फिर शिवराज सरकार (Shivraj Government) कुर्सी बचाने में कामयाब होगी।

इसी के साथ यह भी फैसला हो जाएगा कि कमलनाथ सरकार का पतन करने में अहम भूमिका निभाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के साथ मंत्रियों-पूर्व विधायकों का भाजपा में जाने का फैसला कितना सही था और गलत। शुरुआती दौर में पहला रुझान बीजेपी के पक्ष में दिखाई दे रहा है, बीजेपी प्रत्याशी तुलसी सिलावट, कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्डू से 2400 से ज्यादा वोटों से आगे चल रहे है।इसी के साथ इंदौर में जश्न शुरु हो गया है। सिलावट के जीत के पोस्टर लगाए गए है। तुलसी सबसे बड़ी जीत की ओर बढ़ गए है।वही नेहरू स्टेडियम में हंगामा हो गय है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मतदान पेटी खुली होने का आरोप लगाया है जिसके चलते मतगणना भी प्रभावित हुई है। कांग्रेस ने मतगणना में गड़बड़ी की शिकायत की है और प्रशासन पर बीजेपी के एजेंट बनकर काम करने का आरोप लगाया है।

 सांवेर विधानसभा उपचुनाव लाइव अपडेट-
  • इंदौर की सांवेर विधानसभा (Sanver Assembly Seat) तो यहां से  ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक और शिवराज सरकार में पूर्व मंत्री रहे तुलसी सिलावट (Tulsi Silavat ), कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्डू (Premchand Guddu) से आगे चल रहे है। तुलसी सबसे बड़ी जीत की ओर बढ़ गए है।13वें राउंड में वे कांग्रेस के गुड्डू से 24114 वोटों से आगे चल रहे है।पिछले चुनाव की तुलना में यह सिलावट की बड़ी जीत मानी जा रही है। चौथे दौर के बाद सिलावट ने बढ़त कायम रखते हुए प्रेमचंद गुड्‍डु से 18341 वाेटाें से आगे चल रहे हैं। चौथे दौर के बाद भाजपा काे 20151 और कांग्रेस को 11913 मत मिले हैं। वहीं लाेगों नाेटा को 252 वाेट मिले हैं।
  • दसवें दौर में कुल 84182 मताें में से सिलावट के कुल वोटों की संख्या 50 हजार के पार पहुंच गई है, उनके कुल वोट 50071 हैं जबकि प्रेमचंद गुड्‍डू को 31730 वोट मिले। नोटा के वोटों की संख्या 687 हैं। नौवें दौर के बाद तुलसी सिलावट काे 45001 मत मिले हैं, वहीं प्रेमचंद गुड्‍डू काे 28477 वोट मिले हैं। नाेटा के कुल वोट 607 हैं। आठवें चरण के बाद सिलावट की बढ़त 13974 मताें की थी।
  • सातवें चरण के वोटों की गिनती में भाजपा उम्मीदवार तुलसी सिलावट को 34589 वोट प्राप्त हुए, जबकि प्रेमचंद गुड्डू को 21873 वोट मिले। भाजपा ने सातवें राउंड में 12716 वोटों की बढ़त बनाई है। अभी 21 चरणों की गिनती होना बाकी है। छठे राउंड में भाजपा ने 1847 मतों की बढ़त हासिल की है। तुलसीराम सिलावट में छठे राउंड के बाद 29827 वोटों जबकि प्रेमचंद गुड्‍डू काे 18426 मत मिले हैं। 385 लोगों ने नाेटा को चुना है।
  • तीसरे दौर के बाद तुलसी को 15810 और गुड्‍डु को 8784 मत मिले हैं। वहीं नोटा के वोट 195 हैं। दूसरे राउंड में सिलावट को 11307 और गुड्डू को 5639 वोट (Vote) मिले। भाजपा ने दूसरे राउंड में 5668 वोटों की बढ़त बनाई है। नोटा को कुल 131 लोगों ने वोट दिए।अभी 26 चरणों की गिनती शेष है। पहले चरण की वोटिंग गिनती में भाजपा के सिलावट को 5426 जबकि प्रेमचंद गुडू को 3013 वोट मिले। नोटा को 46 वोट मिले।
  • जैसे जैसे नतीजे सामने आते जा रहे है वैसे वैसे जश्न का माहौल दिखाई दे रहा है। इंदौर में अंतिम नतीजों से पहले ही कार्यकर्ताओं ने सिलावट की जीत का जश्न मनाना शुरु कर दिया है। इंदौर में बधाई पोस्टर लगाए गए है।स्टेडियम के बाहर जय जय सियाराम और भारत माता की जय के नारे लगने शुरू हाे गए। तीसरे दौर के बाद से ही तुलसी सिलावट के समर्थकाें ने आतिशबाजी शुरू कर दी थी। वहीं कांग्रेस के समर्थकाें की भीड़ कम हाेना शुरू हाे गई थी।
  •  सबसे पहले चार टेबलाें पर 2085 डाक मतपत्रों की गिनती हुई है। इसके बाद EVM की गिनती शुरू हुई। 380 मतदान केंद्रों पर हुए मतदान के लिए दाे हाॅल में 7-7 टेलबें लगाई गई हैं। हर राउंड में 14 केंद्रों की ईवीएम की गिनती हो रही है, इस तरह हर कुल 28 राउंड वोटों की गिनती चलेगी।
  •  मतगणना के लिए 171 अधिकारी-कर्मचारी नियुक्त किए गए हैं। 42 कर्मचारी मताें की गणना कर रहे हैं। दोपहर 3 बजे तक स्पष्ट हो जाएगा कि जनता ने दल बदलने वाले नेताओं में से किसके सिर पर जीत का सेहरा बांधा है।
  • MP Breaking News

कई दिग्गजों की साख दांव पर

वैसे तो इंदौर भाजपा का गढ़ माना जाता है, लेकिन हर बार सांवेर की सीट पर कमल खिलाना भाजपा के लिए चुनौतीपूर्ण रहा है, हालांकि इस पर एक बार भाजपा एक बार कांग्रेस जीतती आई है, लेकिन इस बार तुलसी सिलावट के भाजपा और प्रेमचंद गुड्डू के कांग्रेस में शामिल होने के बाद समीकरण एक दम से बदल गए है। वही बसपा के उम्मीदवार को उतारने के बाद मुकाबला रोचक हो चला है। सिलावट की जीत राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan), भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) समेत इंदौर के दिग्गज नेताओं की प्रतिष्ठा का सवाल है, चुंकी सिलावट शिवराज सरकार में कैबिनेट मंत्री है। वही प्रेमचंद गुड्डू की जीत भी कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के लिए बड़ी चुनौती है

पिछले चुनावों का रिकॉर्ड

पिछले चुनाव की बात करे तो 2008 में कांग्रेस के तुलसी सिलावट ने यहां पंजे के निशान पर कांग्रेस को जीत दिलाई थी और 2013 में बीजेपी के राजेश सोनकर ने एक पलटवार करते हुए सांवेर में कमल खिलाया दिया था, लेकिन 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस में रहे तुलसी सिलावट ने एक बार फिर कांग्रेस की वापसी करवाई और भाजपा प्रत्याशी को मात दे दी, लेकिन अब समीकरण पूरी तरह से बदल गए है। कभी कांग्रेस के दिग्गज सूरमा में शामिल तुलसी सिलावट अब भाजपा में शामिल हो गये है, ऐसे में सांवेर में मुकाबला अब बड़ा रोचक हो चला है।

सांवेर उपचुनाव पर एक नजर

कुल उम्मीदवार- 13
कुल मतदाता- 2.70 लाख
कुल बूथ- 280
मतदान हुआ – 2 लाख, 10 हजार, 707
मतदान कितना- 78.01 प्रतिशत
कुल पुरुष मतदाता- 1 लाख, 12 हजार, 586
कुल महिला मतदाता- 98 हजार 121
डाक मतपत्र डले- 2085

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here