MP उपचुनाव 2020: गोविन्द सिंह का बड़ा आरोप…टिकिट बेचते थे ज्योतिरादित्य, सबूत है मौजूद

गोविंद सिंह ने दावा किया कि उनके पास वीडियो भी है। जिसमें भांडेर की रक्षा संतराम मोहनिया से 1 करोड़ रुपए मांगे गए थे।

उपचुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) में मतदान (voting)  की तिथि नजदीक आ रही है और इसी के साथ-साथ बयानबाजी भी तेज होती जा रही है। सियासी गलियों में घमासान मचा हुआ है। इसके साथ ही निजी आरोप-प्रत्यारोप जमकर चल रहा है। ऐसी भी कांग्रेस (congress) के पूर्व मंत्री और दिग्गज नेता गोविंद सिंह (govind singh) ने ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) पर हमला बोला है। गोविंद सिंह ने कहा कि प्रदेश की जनता जिसे महाराज बुलाती है। मैं उसे ज्योति प्रसाद कहता हूं। वह टिकट बेचने का काम करते थे।

दरअसल गुरुवार को चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया का खानदानी इतिहास रहा है। वह जिस पेड़ पर बैठते हैं। उसी पेड़ को काटने का काम करते हैं। वही ज्योतिरादित्य सिंधिया पकड़ा हमला बोलते हुए गोविंद सिंह ने कहा कि पहले कांग्रेस महल में गिरवी रखी थी लेकिन अब आजाद हो गई है। इसके साथ ही गोविंद सिंह ने कहा कि उन्होंने कई बार यह बात राहुल गांधी (rahul gandhi) को भी बताने की कोशिश की थी।

Read More: चंबल की माटी के साथ गद्दारी करने वालों को धूल चटा दूँगा- ज्योतिरादित्य सिंधिया

गोविंद सिंह ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया से बड़े महाराज तो वह है क्योंकि ज्योतिरादित्य सिंधिया टिकट बेचने का काम करते थे। वही गोविंद सिंह ने दावा किया कि उनके पास वीडियो भी है। जिसमें भांडेर की रक्षा संतराम मोहनिया से 1 करोड़ रुपए मांगे गए थे। गोविंद सिंह ने कहा है कि जल्द इस बात का खुलासा किया जाएगा। उन्होंने दावा किया है कि ग्वालियर-चंबल के 16 सीटों पर बीजेपी (BJP) के टिकट से चुनाव लड़ रहे सभी गद्दारों का इस चुनाव में पत्ता साफ हो जाएगा।

बता दें कि मध्य प्रदेश में 3 नवंबर को 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं। इसके परिणाम की घोषणा 10 नवंबर को की जाएगी। इससे पहले पार्टियों का जनसंवाद कर जनता के बीच पहुंचना और एक दूसरे पर निजी हमले तेज होते जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here