MP उपचुनाव 2020: बीजेपी ने आखिर क्यों कहा- कमलनाथ कौन से मिस वर्ल्ड!

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि कैलाश विजयवर्गीय को रावण बताने वाले कमलनाथ कौन से मिस वर्ल्ड(miss world) और उनके प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्डू कौन से मिस यूनिवर्स जैसे दिखते हैं? उन्होंने कहा कि कैलाश विजयवर्गीय ने दिग्विजय और कमलनाथ को चुन्नू-मुन्नू कहा था ना कि रावण, कंस, मेघनाथ या रंगा बिल्ला।

उपचुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश(madhya pradesh) में उपचुनाव(by election) के मद्देनजर तल्ख बयानबाजी का सिलसिला अपनी चरम पर पहुंच गया है। भाषा का अमर्यादित होना आम से बात हो गई है। पार्टियां एक दूसरे पर लांछन लगाने के साथ-साथ अभद्र भाषा का प्रयोग कर रही हैं। वहीं पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा(sajjan singh verma) के कैलाश विजयवर्गीय(kailash vijayvargiya) पर दिए बयान के बाद मामला गरमा गया है। बीजेपी(bjp) की तरफ से प्रवक्ता उमेश शर्मा ने सज्जन सिंह वर्मा और कमलनाथ(kamalnath) पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने पूछा है कैलाश विजयवर्गीय को रावण कहने वाले बताएं, कमलनाथ कौन से मिस वर्ल्ड हैं?

दरअसल भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि कैलाश विजयवर्गीय को रावण बताने वाले कमलनाथ कौन से मिस वर्ल्ड(miss world) और उनके प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्डू कौन से मिस यूनिवर्स जैसे दिखते हैं? उन्होंने कहा कि कैलाश विजयवर्गीय ने दिग्विजय और कमलनाथ को चुन्नू-मुन्नू कहा था ना कि रावण, कंस, मेघनाथ या रंगा बिल्ला। हमारे यहां बचकानी हरकत करने वाले को चुन्नू-मुन्नू कहते हैं लेकिन उस शब्द के बाद इतने अभद्र जवाब देना निश्चित तौर पर निंदनीय है।

Read this: कैलाश विजयवर्गीय को सज्जन सिंह वर्मा की नसीहत- बड़े नामों पर जुमले करके ना करें राजनीति

वहीं उन्होंने कांग्रेस के दिग्गज नेताओं से अभद्र भाषाओं के टिप्पणियों को बंद कराने का निवेदन भी किया है। दूसरी तरफ सज्जन सिंह वर्मा को घेरते हुए भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि बाल बढ़ाना हिंदू धर्म की संस्कृति है भगवान राम ने भी बाल बढ़ाए थे। ऐसे में सज्जन वर्मा ने बाल बढ़ाने को पाखंड कहकर हिंदू धर्म को अपमानित किया है।

बता दें कि कैलाश विजयवर्गीय के बयान पर पलटवार करते हुए पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने उनकर तीक्ष्ण तंज कसा था। उन्होंने कहा था कि अपनों से बड़ों पर मुंह उठाकर तो खो गए तो थूक तुम्हारे ऊपर ही गिरेगा। भूल गए जब साड़ी पहन के बड़े बड़े बाल कर के हाथ में चूड़ी पहन के तंत्र मंत्र करते थे। सज्जन सिंह वर्मा ने कहा था कि मुख्यमंत्री बनने के सपने देख रहे थे कैलाश विजयवर्गीय। लेकिन बीजेपी ने उन्हें उठाकर कहां फेंक दिया। इसके साथ ही उन्होंने कैलाश विजवर्गीय पर कसते हुए कहा था कि दशहरा आते समय उनका चेहरा रावण जैसा हो जाता है। जिसके बाद से लगातार बीजेपी इन टिप्पणियों को निशाना बना रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here