MP उपचुनाव : सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर का बयान- रावण जैसा होगा कमलनाथ का हश्र

प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि जल्द से जल्द उस शख्स को अपने शब्द वापस ले लेना चाहिए। नहीं तो उसका बुरा हश्र होने वाला है।

प्रज्ञा सिंह ठाकुर

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में उपचुनाव के मद्देनजर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है। बीजेपी (BJP) इमरती देवी (imarti devi) पर दिए कमलनाथ (kamalnath) के बयान पर लगातार उन्हें घेरती नजर आ रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chiefminister shivraj singh chauhan) पहले ही कह चुके हैं कि राहुल गांधी की बात ना सुनकर कमलनाथ ने सिद्ध कर दिया कि केंद्र में अलग कांग्रेस है और मध्यप्रदेश में अलग कांग्रेस। दूसरी तरफ भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya singh thakur) ने कमलनाथ को निशाने पर लिया है। दशहरा के मौके पर पत्रकार वार्ता में प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा कि कमलनाथ का हश्र भी रावण की तरह होगा।

दरअसल विजयदशमी के दिन पत्रकारों से बात करते हुए प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा आज मेला का अपमान करने वाले एक व्यक्ति का पुतला दहन किया जा रहा है और ऐसा ही हर उस इंसान के साथ होगा। जिसने एक महिला को आइटम किया कर पहले अपमानित किया और फिर हंस रहा था। प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा कि मुझे ऐसे शख्स के बुद्धि पर तरस आता है। जो किसी नारी को आइटम कह देता है। यह कैसा भारतवासी है। जिसे नारी का सम्मान करना नहीं आता। प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि जल्द से जल्द उस शख्स को अपने शब्द वापस ले लेना चाहिए। नहीं तो उसका बुरा हश्र होने वाला है। जिस तरह रावण के पुतले को जलाकर उस का दहन किया जा रहा है। ऐसा ही उसका भी हश्र होगा।

Read More: मप्र उपचुनाव 2020 : उमा भारती के बयान के कई सियासी मायने, कांग्रेस बोली- संकेत स्पष्ट

सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा कि भोपाल की जनता धर्म और अधर्म में फर्क जानती है। वहीं प्रज्ञा ठाकुर ने ये भी माना कि लोकसभा का चुनाव किसी राजनीतिक मुद्दे पर नहीं, बल्कि धर्म और अधर्म के बीच लड़ा गया था। भोपाल की जनता ने उन्‍हें इसका जवाब उसी चुनाव में दे दिया था। प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा कि भगवा को आतंक कहने वाले लोगों का यहां से सफाया हो गया। यहां पर धर्म प्रेमी ही रह सकते हैं। धर्म पर चलने वाला व्यक्ति यहां राज कर सकता है।

ठाकुर ने कहा कि हिंदू सनातनी को अपने बच्चों की रक्षा करनी चाहिए। अपने बच्चों को राष्ट्र की भावना सिखाइए। अपने देश के लिए समर्पित होना सिखाइए। इतिहास से सीखिए कि हमें सचेत होना होगा वरना हमारे पास कुछ नहीं रह जायेगा।

बता दें कि बीते दिनों पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेता कमलनाथ ने चुनावी सभा में इमरती देवी पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। जहां उन्होंने बिना उनका नाम लिया “आइटम” की संज्ञा दे दी थी। इस मुद्दे पर प्रदेश में खासा बहस देखने को मिला थ। वही यह मुद्दा देशव्यापी बन गया था। बीजेपी लगातार इस बात पर कमलनाथ को घेरती नजर आ रही है।

भाजपा के दिग्गजों शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी द्वारा कमलनाथ के विरुद्ध 2 घंटे की मौन सभा भी आयोजित की गई थी। वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) सहित कई बीजेपी दिग्गजों ने कमलनाथ को निशाना बनाया था जबकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर कमलनाथ को माफी मांगने की बात कही थी। इधर राहुल गांधी ने भी कमलनाथ के इस बयान पर आपत्ति जताई थी। अब इस मामले में प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कमलनाथ पर जमकर निशाना साधा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here