pwd-minister-said--Ram-temple-will-be-made-by-only-Congress-

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। डबरा (dabra) से भाजपा (B J P) उम्मीदवार और गैर विधायक मंत्री इमरती देवी (Imrati Devi) के लिए पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamal Nath) द्वारा अभद्र टिप्पणी के बाद अब भाजपा आक्रामक हो गई है और कमलनाथ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। प्रदेश भर में आज भाजपा कमलनाथ के खिलाफ अपना विरोध दर्ज करा रही है। राजधानी के मिंटो हॉल में सीएम शिवराज (CM Shivraj) बयान के विरोध में दो घंटे के मौन उपवास पर बैठे है। उनके साथ कैबिनेट मंत्री और भाजपा के कई नेता मौजूद है। वहीं इंदौर में ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) मौन व्रत में शामिल है। मुख्यमंत्री और सिंधिया के मौन व्रत कार्यक्रम पर कांग्रेस ने निशाना साधा है।

मप्र कांग्रेस ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर सीएम शिवराज के मौन व्रत पर बड़ा हमला बोला है। सीएम के साथ कार्यक्रम में मौजूद ध्रुव नारायण सिंह की मौजूदगी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस ने ट्वीट में कहा है कि मध्यप्रदेश में बढ़ती मौत, हत्या और बलात्कार की घटना के बाद व्यापम, ई-टेंडर एवं शैला मसूद हत्या के मुख्य आरोपियों का संयुक्त आत्मग्लानि शिविर। ड्रामेबाज़ी चरम पर है, नजर आ रहे ये सारे, लोकतंत्र के हैं हत्यारे। वहीं सिंधिया को घेरते हुए कहा ‘बाल कलाकार श्रीअंत इंदौर में प्रस्तुति देंगें। ”

सज्जन सिंह वर्मा ने भी कसा तंज
वही पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक सज्जन सिंह वर्मा (Sajjan Singh Verma) ने भी सीएम शिवराज के मौन व्रत पर तंज कसा है। सज्जन सिंह वर्मा ने ट्वीट कर कहा है कि शिवराज जी, मौन तो आप वैसे भी रहते हैं। चाहे आपकी सरकार में महिला अत्याचार में नंबर वन होने पर, प्रदेश में रोज 10 बच्चियों से हो रहे दुराचार पर, महिलाओं की ड्यूटी शराब दुकानों में लगाने पर या फिर 2016-18 में 80 हजार महिलाओं के गायब होने पर। आप मौन हमेशा ही रहते है।

गौरतलब है कि रविवार को कमलनाथ ने डबरा में आयोजित एक जनसभा में इमरती देवी के लिए अभद्र टिप्पणी की थी। हालांकि बाद में इमरती देवी को लेकर दिए गए बयान से कमलनाथ बैकफुट पर आ गए हैं और उन्होंने सफाई देते हुए कहा है कि यह कोई असम्मानजनक शब्द नहीं है।