सांवेर में कमलनाथ पर जमकर बरसे सिंधिया, इमरती देवी पर तंज को लेकर ये बोले

सिंधिया ने कहा कि जिस नेता और जिस सरकार ने मेरी महिलाओं के साथ गद्दारी की हो, नौजवानो के साथ गद्दारी की हो उस सरकार को धूल चटाना ज्योतिरादित्य सिंधिया का काम

इंदौर, आकाश धोलपुरे| उपचुनाव (Byelection) के एपिसेंटर सांवेर (Sanwer) में आज जब ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) पहुँचे तो उन्होंने सीधे कमलनाथ (Kamalnath) और कांग्रेस की 15 माह की सरकार पर हमला बोला। सिंधिया ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीसीसी चीफ कमलनाथ के ताजा बयान और राज्यसभा सांसद के चुनाव में दलित समुदाय की अनदेखी को लेकर कांग्रेस पर सवालिया निशान खड़े किए।

सांवेर में चुनावी सभा के दौरान कहा कि जब घर मे नया दूल्हा आता है तो वो घर के सभी सदस्यों का आशीर्वाद लेता है। उन्होनें पूर्व सीएम कमलनाथ को घेरते हुए कहा कि 15 महीने पहले नया दूल्हा आया था। उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह चौहान का जन्म तो यही हुआ, कैलाश विजयवर्गीय का जन्म यही हुआ, मेरा जन्म यही हुआ लेकिन इस दूल्हे का जन्म कहा हुआ ? इस बीच एक कार्यकर्ता ने बीच मे कुछ कहा तो सिंधिया ने कहा कि मेरे मंच श्रध्येय एक स्तर होता है मंच का उस स्तर को मत तोड़ना वो करे सो करे लेकिन सिंधिया परिवार का नियम और कीर्ति, सिद्धांत होता है।

वही कमलनाथ का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि नया दूल्हा आया क्या एक बार भी सांवेर में 15 महीने के दौरान आशीर्वाद देने के लिये। ओला वृष्टि, अति वृष्टि मालवा में हुई बाढ़ आई और ग्वालियर – चंबल में अतिवृष्टि हुई उस दौरान उस तरफ से शिवराज सिंह जी गए इस तरफ से मैं गया, उधर का कोई पता नही!

सिंधिया ने कहा कि जिस नेता और जिस सरकार ने मेरी महिलाओं के साथ गद्दारी की हो, माधव महाराज के अन्नदाताओ के साथ गद्दारी की हो, नौजवानो के साथ गद्दारी की हो उस सरकार को धूल चटाना ज्योतिरादित्य सिंधिया का काम है।

इधर, डबरा में पूर्व सीएम कमलनाथ के बयान को लेकर सिंधिया ने कहा कि आज देखो किस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया जा रहा है मेरी और आपके परिवार की सदस्य के लिए ? इमरती देवी इस सरकार में मंत्री है जो उस सरकार में मंत्री थी । उन्होंने कहा कि दलित समाज और श्रमिक से जुड़ी मेरी महिला जो मेहनत व परिश्रम करके पहले सरपंच बनी फिर जनपद सदस्य बनी, जिला पंचायत सदस्य बनी विधायक बनी और कमलनाथ जी कहते है की वो आयटम है। वही उन्होंने कहा कि अजय सिंह कहते है कि वो जलेबी है। इसके बाद आक्रोशित सिंधिया ने कहा कि जो लोग महिलाओं के लिए ऐसे शब्द इस्तेमाल करते है 3 तारीख को ऐसे लोगो के दरवाजे बंद कर देना भाईयो और बहनों। उन्होंने कहा कि शास्त्रों में लिखा गया है कि जहां नारी की पूजा की जाती है वहां देवताओ का वास होता है। उन्होंने कहा कि महिलाओं और अनुसूचित जाति के विरुद्ध के प्रति कांग्रेस की ये सोच और विचारधारा है।

वही उन्होंने दिग्विजयसिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि जो अपने आपको दलित समाज का चैंपियन बोलते है क्या हुआ जब राज्यसभा चुनाव आया। दो प्रत्याशी थे उस समय कांग्रेस की तरफ से नम्बर 1 बड़े भाई और नम्बर 2 पर दलित समाज के फूल सिंह बरैया को रखा ताकि वो हारे ये कांग्रेस की नीति है। उन्होंने कहा कि सिंधिया परिवार ने हर समाज, हर इंसान, हर व्यक्ति का मान सम्मान रखकर आगे बढ़ाने की कोशिश की है। वही पीएम मोदी का होना सौभाग्य बताते सिंधिया ने बीजेपी और मोदी व शिवराज की जमकर तारीफ भी की और कहा कि मैंने कांग्रेस में रहते हुए धारा 370, राम मंदिर का समर्थन कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here