देश में 24 घंटे में 1,59,632 नए मामले, PM Modi ने बुलाई बड़ी बैठक, हो सकता है अहम फैसला

पीएम मोदी के आदेश अनुसार आगे की रणनीति और कार्य योजना तैयार की जाएगी।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश में Corona के बढ़ते मामले के बीच अब केंद्र सरकार की चिंता बढ़ गई है। दरअसल बीते 24 घंटे में देश में करीब 1,60,000 नए मामले सामने आए हैं। जिसको देखते हुए Corona के तेजी से बढ़ते मामले के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उच्च अधिकारियों की बैठक बुलाई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) द्वारा की समीक्षा के लिए बुलाई गई मीटिंग मैं बढ़ते मामले के साथ वर्तमान स्थिति पर चर्चा की जाएगी। इसके अलावा इस मीटिंग में ICMR और स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रमुख अधिकारी मौजूद रहेंगे। पीएम मोदी के आदेश अनुसार आगे की रणनीति और कार्य योजना तैयार की जाएगी।

4:30 बजे से शुरू हुई इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) कुछ बड़े आदेश भी दे सकते हैं। बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामले के बीच राज्य में कई कदम उठाए गए हैं। कई राज्यों द्वारा स्कूल कॉलेजों को बंद कर दिया गया। सिनेमाघर, शादी को लेकर ने प्रतिबंध लागू कर दिए गए हैं। वहीं केंद्र सरकार द्वारा भी लगातार Corona टीकाकरण सहित प्रतिबंध को लेकर नई गाइडलाइन जारी की जा रही है।

Read More : सीएम शिवराज ने किया 360 करोड़ के प्लांट का भूमि पूजन, किसानों को मिलेगा लाभ, लॉकडाउन पर कही बड़ी बात

बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया शामिल हो रहे हैं। इस बैठक में शामिल शीर्ष अधिकारियों में विमानन सचिव, गृह सचिव, कैबिनेट सचिव और रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष सहित अन्य शामिल हैं।इससे पहले पीएम मोदी ने आखिरी बार 24 दिसंबर को कोरोना समीक्षा बैठक की थी।

रविवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय के कोरोना पर अपडेट किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश ने पिछले 24 घंटों में कुल 1,59,632 नए संक्रमणों की पुष्टि की थी। जो 224 दिनों में सबसे अधिक एक दिन के आंकड़े है। वहीं देश में सक्रिय मामले बढ़कर 5,90,611 हो गए। इससे पहले भारत में पिछले साल 29 मई को एक ही दिन में 1,65,553 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज की रिपोर्ट सामने आई थी।

विशेषज्ञों की मानें तो उनके अनुसार Corona की तीसरी की लहर देश में प्रवेश कर चुकी है। वहीं विशेषज्ञों का कहना है कि फरवरी महीने में यह महामारी अपनी पिक पर होगी और इस दौरान देश में बड़े स्तर पर संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी होगी।