तमिलनाडु के सरकारी स्कूल में एक साथ 100 बच्चे अचानक हुए बीमार, जानिए क्या है पूरा मामला

तमिलनाडु के कृष्णागिरी एक चौका देने वाली घटना सामने आई है। बता दें कि कृष्णागिरी के होसुर में एक सरकारी स्कूल में 100 से ज्यादा बच्चे एक साथ बेहोश गए, जिसने सभी को हैरत में डाल दिया। पढ़ें पूरी खबर..

चेन्नई, डेस्क रिपोर्ट | तमिलनाडु के कृष्णागिरी एक चौका देने वाली घटना सामने आई है। बता दें कि कृष्णागिरी के होसुर में एक सरकारी स्कूल में 100 से ज्यादा बच्चे एक साथ बेहोश गए, जिसने सभी को हैरत में डाल दिया। इस घटना के बाद विद्यालय परिसर में कोहराम मच गया। जिसके बाद स्कूल प्रशासन की तरफ से तत्काल इस बात की सूचना पुलिस को दी गई। साथ ही, सभी को इलाज के नजदीकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। फिलहाल, सभी विद्यार्थी खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं, जिनका इलाज जारी है। वहीं, मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है। बच्चों के बेहोश होने की मुख्य वजह सेप्टिक टैंक से जहरीली गैस का लीक होना बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें – Pushya Nakshatra 2022 : इतने घंटे रहेगा खरीदारी का शुभ महामुहूर्त, बन रहे हैं ये दो खास योग 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मिडिल स्कूल में पढ़ने वाले छात्र ने दोपहर का खाना खाया, जिसके बाद अचानक से उनकी तबियत बिगड़ने लगी और सब के सब छात्रों को उल्टी की समस्या होने लगी। जिसके बाद सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां सभी छात्रों की स्थिति सामान्य बताई जा रही है। बता दें कि घटना की जानकारी मिलते ही जिला शिक्षा अधिकारी, निगम के कर्मचारी-अधिकारी और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अफसर पहुंच गए थे। वहीं, बच्चों के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो रहा है।

यह भी पढ़ें – Dhanteras 2022: धनतेरस में कुछ दिन बाकी, ना करें इन 8 चीजों को खरीदने की गलती, होगा नुकसान, जानें

आधिकारिक बयान के अनुसार, ज्यादातर छात्रों में जी मिचलाना और उल्टी की शिकायत सामने आईं लेकिन किसी भी छात्र की स्थिति गंभीर नहीं बताई जा रही है। जिसके बाद जिला अधिकारी ने पूरे स्कूल का दौरा किया और अस्पताल पहुंच कर भर्ती छात्रों का हाल भी जाना। साथ ही, इस मामले में जांच कर उचित कार्रवाई करने के भी आश्वासन दिए।

यह भी पढ़ें – MPPSC : उम्मीदवारों के लिए महत्वपूर्ण सूचना, विभिन्न पदों पर होगी भर्ती, 19 अक्टूबर से शुरू होंगे आवेदन, जानें पात्रता और नियम

जिला कलेक्‍टर कृष्‍णागिरी चंद्र भानु रेड्डी ने बताया कि, “इस मामले की जांच के लिए होसुर निगम और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को जिम्‍मेदारी दी गई है। स्‍कूल से मिली जानकारी के अनुसार दोपहर करीब 3 बजे अचानक स्‍टूडेंट्स को उल्टियां होने लगीं। इसके बाद उन्‍हें तुरंत अस्‍पताल में भर्ती कराया गया।”

यह भी पढ़ें – Indore IT Raid : इनकम टैक्स-ED के निशाने पर कई बिल्डर्स, टीनू संघवी सहित कई ठिकानों पर छापामार कार्रवाई, जांच जारी