UP Tourism: आध्यात्मिक स्थलों और प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर है उत्तर प्रदेश, इन जगहों की जरूर करें सैर

UP Tourism

UP Tourism: उत्तर प्रदेश एक ऐसी जगह है जहां घूमने के लिए कई सारे ऐतिहासिक स्थल मौजूद है। यहां अक्सर ही पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है। यहां का बांदा जिला घूमने के लिए बेस्ट जगह है। जहां आपको ऐतिहासिक स्थल, प्राचीन मंदिर, झरने, आध्यात्मिक स्थल और जंगलों की खूबसूरती देखने को मिलेगी।

बांदा को ऋषि बामदेव की नगरी कहा जाता है और यहां से सौ से डेढ़ सौ किलोमीटर की दूरी पर खूबसूरत पर्यटन स्थल मौजूद है। आज हम आपको ऐसी कुछ जगहों की जानकारी देते हैं जो बांदा के पास है और आप यहां घूमने फिरने के लिए जा सकते हैं और प्राकृतिक सौंदर्य के साथ ऐतिहासिक जगहों का दीदार कर सकते हैं।

UP Tourism में घूमें ये जगह

शबरी वाटरफॉल

आपको प्राकृतिक जगहों पर जाना पसंद है और झरनों की खूबसूरती आपको आकर्षित करती है तो आप बांदा के पास शबरी झरना पर जा सकते हैं। यह जगह चित्रकूट धाम से 57 किलोमीटर और बांदा से 130 किलोमीटर दूर पड़ती है। यहां चट्टानों के बीच से बहता खूबसूरत झरना और हरे-भरे घास के मैदान अद्भुत प्राकृतिक दृश्य का निर्माण करते हैं जो किसी का भी दिल जीत सकता है।

UP Tourism

चित्रकूट धाम

बांदा के पास मौजूद सबसे खूबसूरत प्राकृतिक और आध्यात्मिक स्थल अगर कोई है तो वह है पयस्वनी नदी के किनारे पर मौजूद चित्रकूट धाम। जानकारी के मुताबिक भगवान राम ने अपने वनवास के दौरान 11 वर्ष यहीं पर बिताए थे। उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की सीमा पर मौजूद ये जगह अक्सर ही पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करती है। अमावस्या पर यहां श्रद्धालुओं का जमावड़ा लगता है और दूर-दूर से आकर लोग कामतानाथ मंदिर में दर्शन करते हैं। यहां पर कामदगिरि पर्वत मौजूद है जिसकी परिक्रमा करने का विशेष महत्व माना जाता है और कहा जाता है ऐसा करने से मन्नत पूरी होती है।

UP Tourism

बृहस्पति झरना

चित्रकूट से कुछ ही दूरी पर मौजूद बृहस्पति कुंड झरना बहुत ही खूबसूरत प्राकृतिक स्थल है। यह जगह बांदा से 85 किलोमीटर दूर है और भारत के नियाग्रा जलप्रपात के नाम से प्रसिद्ध है। पन्ना का बृहस्पति कुंड प्राकृतिक प्रेमियों को अपनी और आकर्षित करता है। जानकारी के मुताबिक इस शानदार झरने की ऊंचाई 400 फीट है और यह 200 से 300 फीट चौड़ा है।

UP Tourism

धारकुंडी आश्रम

धारकुंडी एक आध्यात्मिक स्थल है जो अध्यात्म की और रुचि रखने वाले लोगों के लिए बेहतरीन जगह है। दैनिक जीवन से तनावग्रस्त हो चुके लोग अगर शांति चाहते हैं तो इस जगह का दीदार कर सकते हैं। जानकारी के मुताबिक सच्चिदानंद महाराज ने यहां मौजूद सती अनुसूया आश्रम में 11 वर्षों तक तपस्या की थी और 1956 में धारकुंडी आश्रम को स्थापित किया था। आध्यात्मिक शक्ति की बदौलत उन्होंने इस आश्रम को बहुत ही सुंदर और प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर जगह बनाया।

UP Tourism

कालिंजर किला

अगर आपको ऐतिहासिक चीजें आकर्षित करती है तो आप बांदा से 68 किलोमीटर दूर कालिंजर किला पर पहुंच सकते हैं। यह खूबसूरत किला भारत की ऐतिहासिक संस्कृति की अद्भुत पहचान के रूप में आज भी स्थापित है। यहां पर नीलकंठ मंदिर मौजूद है जो धार्मिक आस्थाओं के चलते बहुत फेमस है। बताया जाता है कि यहां पर भगवान शिव समुद्र मंथन से विष पी कर आए थे। यही वजह है कि इस स्थान का खास महत्व है।

UP Tourism


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News