कर्मचारियों-पेंशनर्स के लिए अच्छी खबर, DA में 9 फीसद की वृद्धि, अधिसूचना जारी, दिसंबर में खाते में बढ़ेगी राशि

राज्य सरकार द्वारा कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया गया है। दरअसल उनके महंगाई भत्ते में वृद्धि को लेकर अधिसूचना जारी कर दी गई है। कर्मचारी और सेवानिवृत्त कर्मचारियों को अब बढ़े हुए पेंशन और महंगाई भत्ते का लाभ दिया जाएगा।

5th-6th Pay Commission : राज्य सरकार द्वारा कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया गया है। दरअसल कर्मचारियों के महंगाई पर महंगाई राहत में वृद्धि की गई है। सोमवार को इसके लिए अधिसूचना जारी की गई है। जारी अधिसूचना के मुताबिक कर्मचारी और सेवानिवृत्त सरकारी कर्मचारियों को बढ़े हुए डीए के साथ वेतन का भुगतान किया जाएगा।

पंचम केंद्रीय वेतनमान : DA में 15 फ़ीसदी की वृद्धि

पंचम केंद्रीय वेतनमान के तहत शासकीय प्राप्त कर रहे सेवानिवृत्त सरकारी कर्मचारियों को 1 जुलाई 2022 से 396% महंगाई भत्ते का लाभ दिया जाएगा। यह बढ़ोतरी पारिवारिक पेंशन भोगियों पर भी लागू की जाएगी। पेंशन भोगियों को महंगाई भत्ते के रूप में 381% भुगतान किए जा रहे थे। उनके मंहगाई भत्ता में 15 फ़ीसदी की वृद्धि की गई है।

दरअसल 15 अक्टूबर को हुए कैबिनेट के फैसले में इस पर सहमति बनी है। वित्त विभाग की जारी अधिसूचना के मुताबिक बढ़ी हुई राशि का पेंशनर्स को नकद भुगतान किया जाएगा। कोषागार पदाधिकारियों को कहा गया है कि किसी भी प्राधिकार के आदेश की प्रतीक्षा किए बिना बकाए का भुगतान शुरू करें।

6th Pay : महंगाई भत्ते में 9 फीसद की वृद्धि

इसके अलावा छठा केंद्रीय वेतनमान प्राप्त कर रहे पेंशन भोगियों के लिए महंगाई भत्ते में 9 फीसद की वृद्धि की गई थी। 15 अक्टूबर को कैबिनेट की बैठक में महंगाई भत्ते को 212% बढ़ाया गया था। सेवानिवृत्त कर्मचारियों को 203% महंगाई भत्ते का लाभ दिया जा रहा था। अधिसूचना के माध्यम से यह कहा गया है कि पेंशन भोगियों को बढ़ी हुई राशि का नकद भुगतान किया जाएगा। जबकि पटना उच्च न्यायालय विधानसभा और विधान परिषद के पूर्व कर्मचारियों के मामले में विधानसभा अध्यक्ष और परिषद के सभापति द्वारा निर्णय लिया जाएगा।

सातवें वेतनमान के लिए हुई थी DA वृद्धि

इससे पहले सातवें वेतनमान प्राप्त कर रहे कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में वृद्धि की घोषणा की गई थी। इसके लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है। इसके बाद कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 4 फीसद की वृद्धि की गई थी। वही 34 से बढ़ाकर उन के महंगाई भत्ते को 38% किया गया था।