कर्मचारियों-शिक्षकों को तोहफा, मिलेगा सातवें वेतनमान का लाभ, प्रस्ताव को मंजूरी, सैलरी में होगा इजाफा

इसमें कर्मचारियों की सैलरी के लिए 412 करोड़ और प्रस्तावित पे स्केल सैलरी के लिए 13.28 करोड़ रखा गया है।

employee news

चंडीगढ़, डेस्क रिपोर्ट। पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ शिक्षकों के लिए अच्छी खबर है।सिंडिकेट बैठक में 992.29 करोड़ के बजट के साथ शिक्षकों के सातवें वेतनमान को लागू करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। इसका लाभ करीब 1000 शिक्षकों को मिलेगा। इसमें 600 से अधिक रेगुलर और 300 कांट्रैक्ट और गेस्ट फैकल्टी के कर्मचारी शामिल है।

यह भी पढ़े..MP Weather: पश्चिमी विक्षोभ का दिखेगा असर, छाएंगे बादल, 8 जिलों में बूंदाबांदी के आसार, पढ़े मौसम विभाग का पूर्वानुमान

पंजाब यूनिवर्सिटी की ओर से सोमवार को आयोजित सिंडिकेट बैठक में बोर्ड ऑफ फाइनेंस के 992.29 करोड़ बजट को मंजूरी दे दी गई है। इसमें कर्मचारियों की सैलरी के लिए 412 करोड़ और प्रस्तावित पे स्केल सैलरी के लिए 13.28 करोड़ रखा गया है। इसी के साथ शिक्षकों के सातवें वेतनमान को लागू करने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी गई है।

इस फैसले से 1 हजार से अधिक शिक्षकों कर्मचारियों को पंजाब सरकार की ओर से घोषित सातवें वेतनमान के तहत लाभ मिलने लगेगा। देश भर में पंजाब यूनिवर्सिटी के शिक्षकों को सबसे बाद में सातवें वेतनमान का लाभ मिला है। पीयू सिंडिकेट में सातवां वेतनमान लागू किए जाने के फैसले से पीयू में कांट्रैक्ट और गेस्ट फैकल्टी को तौर पर पढ़ाने वाले शिक्षकों के वेतन में वृद्धि होगी। कांट्रैक्ट और गेस्ट फैकल्टी को यूजीसी नियमों के तहत निर्धारित कम से कम वेतन मिल सकेगा।

यह भी पढ़े..नए साल में कर्मचारियों को मिलेगा बड़ा तोहफा! फिर बढ़ेगा DA, सैलरी में आएगा उछाल, जानें अपडेट

बता दे कि 5 सितंबर को पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पीयू और पंजाब की सभी यूनिवर्सिटी के शिक्षकों को नए वेतनमान को लेकर घोषणा की थी। इस संबंध में पंजाब सरकार की ओर से नोटिफिकेशन भी जारी हो चुका है। लेकिन पंजाब यूनिवर्सिटी ने अभी तक इस मामले में कोई नोटिस जारी नहीं किया था, लेकिन अब पंजाब यूनिवर्सिटी की सिंडिकेट बैठक में पंजाब सरकार के सातवें वेतनमान को पीयू कैंपस में भी लागू करने के प्रस्ताव पर अंतिम मुहर लग गई है।