कर्मचारियों-शिक्षकों के लिए खुशखबरी, मिलेगा सातवें वेतनमान-अवकाश का लाभ, नए साल से बढ़ेगी सैलरी

7th Pay Commission : पंजाब के शिक्षकों-कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है। नए साल से कॉलेजों व विश्वविद्यालय के अध्यापकों, शिक्षकों और कर्मचारियों को यूजीसी के 7वें वेतन आयोग का लाभ मिलेगा। सातवां वेतनमान लागू होने से चंडीगढ़, पंजाब के कॉलेजों में गेस्ट और कांट्रेक्ट पर कार्यरत शिक्षक, गेस्ट फैकल्टी और पार्टटाइम अध्यापकों का भी वेतन बढ़ेगा। बता दे कि सीएम भगवंत मान ने बीते 5 सितंबर 2022 को शिक्षक दिवस पर कॉलेज और यूनिवर्सिटी प्रोफेसर्स को सातवां वेतनमान देने का एलान किया था।वही एरियर को 2 किस्तों में देने का वादा किया है।

पंजाब में भगवंत मान के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी सरकार ने बुधवार को ऐलान किया कि कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के शिक्षकों को सातवें वेतन आयोग के तहत वेतन दिया जाएगा। उच्च शिक्षा मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर ने कहा कि आप सरकार ने कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के शिक्षकों की पिछले छह साल से लंबित मांग को पूरा कर दिया है। इससे शिक्षकों को सरकारी खजाने से 280 करोड़ रुपये का आर्थिक लाभ होगा।फंड या संशोधित वेतन का संवितरण राज्य के खजाने से जारी किया जाएगा।

अवकाश का भी लाभ

वही कॉलेजों में कार्यरत अतिथि शिक्षकों और अंशकालिक शिक्षकों के वेतन में वृद्धि की गई और उन्हें विभिन्न प्रकार की छुट्टियां दी गईं। इन्हें सातवें वेतन आयोग के साथ-साथ अवकाश का लाभ भी दिया जाएगा। साथ ही पंजाबी मातृभाषा को समर्पित नवंबर महीने को पंजाबी माह के तौर पर मनाया गया। अमृतसर में एक राज्यस्तरीय समारोह में मुख्यमंत्री भगवंत मान ने राज्यभर में 21 फरवरी 2023 तक सभी बोर्डों पर पंजाबी भाषा को प्राथमिकता देने का एलान किया। अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस 21 फरवरी के बाद इन आदेशों का पालन न करने पर जुर्माने किए जाएंगे।