कर्मचारियों-पेंशनर्स को तोहफा, DA में 9 फीसद की वृद्धि, वित्त विभाग का आदेश जारी, एरियर का होगा भुगतान, जून में खाते में बढ़ेगी राशि

6th pay Commission, DA hike, Employees DA Hike : प्रदेश सरकार द्वारा कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया गया है। उनके महंगाई भत्ते में वृद्धि की गई है।कर्मचारी लंबे समय से महंगाई भत्ते में वृद्धि की राह देख रहे थे। वही इस वृद्धि के साथ ही उनके वेतन में बंपर इजाफा देखा जाएगा। साथ ही उनके वेतन बढ़कर 30000 तक हो सकते हैं।

उत्तराखंड की धामी सरकार द्वारा कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 9 फीसद का इजाफा किया गया है। इसके लिए आदेश जारी कर दिए गए हैं। छठे वेतनमान प्राप्त कर रहे कर्मचारियों को इसका लाभ मिलेगा। वहीं उनके डीए 212% से बढ़ाकर 221% किया गया है। 1 जनवरी 2023 से उन्हें इसका लाभ दिया जाएगा। वहीं कर्मचारियों को 1 जनवरी से 30 अप्रैल 2023 तक के पुनरीक्षित डीए के एरियर का भुगतान नगर में किया जाना है।

इस तरह होगा भुगतान

बता दें कि 1 जनवरी 2023 से 30 अप्रैल 2023 तक के लिए दिए पुनरीक्षित के एरियर का भुगतान नकद किए जाने को लेकर आदेश में उल्लेख किया गया है। इसके साथ ही मई से महंगाई भत्ते का भुगतान कर्मचारियों के नियमित वेतन के साथ ही किया जाएगा। साथ ही अंशदाई पेंशन योजना वाले कर्मचारियों के पेंशन अंशदान, नियोक्ता के अंश के साथ नई पेंशन योजना के खाते में जमा की जाएगी।

इनपर नहीं होंगे लागू

महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी को लेकर वित्त विभाग की ओर से पत्रावली मुख्यमंत्री को भेजी गई थी। जिसमें कैबिनेट में कर्मचारियों के डीए बढ़ाने पर मुख्यमंत्री ने लिया है। उच्च न्यायालय के न्यायाधीश सहित उत्तराखंड लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष सदस्य और सार्वजनिक उपक्रम के कर्मचारियों पर यह आदेश वेतन लागू नहीं किया जाएगा। इस संबंध में संबंधित विभाग द्वारा अलग से आदेश जारी किए जाएंगे।

इतना बढ़ेगा वेतन

महंगाई भत्ते में इस बढ़ोतरी से लगभग ₹1000 से 7000 रुपए तक की वृद्धि कर्मचारियों के वेतन में देखी जाएगी। इसके साथ ही उनके वेतन बढ़कर 30000 रुपए तक हो सकते हैं।

इन राज्यों में बढ़ा DA

मार्च महीने में केंद्र सरकार द्वारा महंगाई भत्ते में वृद्धि के साथ ही आधा दर्जन से अधिक राज्य सरकार द्वारा भी महंगाई भत्ते में वृद्धि कर दी गई है। हिमाचल, कर्नाटका, झारखंड, बिहार के अलावा राजस्थान उत्तर प्रदेश और गुजरात सरकार द्वारा भी महंगाई भत्ते को बढ़ाया गया है।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News