Lockdown Again : यहां लॉकडाउन की घोषणा होते ही लगा 700 किमी लंबा ट्रैफिक जाम

लोगों को घरों में ही रहने को कहा गया है। बाहर निकलने पर जुर्माना या सजा का प्रावधान किया गया है, हालांकि व्यायाम के लिए घर से एक घंटा बाहर निकलने, ड्यूटी पर जाने या डॉक्टर से मिलने या दवा लाने अथवा जरूरी सामानों के लिए दुकान जाने की छूट दी गई है।

विदेश, डेस्क रिपोर्ट। लगातार कोरोना (Coronavirus Pandemic) के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए फ्रांस में दोबारा लॉकडाउन लगा दिया गया है। राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (Emmanuel Macron) ने कोविड-19 के मद्देनजर देश में दोबारा लॉकडाउन (Lockdown Again) लगाने का एलान किया है।लॉकडाउन की घोषणा होते ही लोग जरूरी सामान को लेने और देश से बाहर जाने के लिए निकले तो  सड़कों पर 435 मील (करीब 700 किलोमीटर) लंबा जाम लग गया, जिसकी तस्वीरें अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है।

दरअसल, फ्रांस (France) में लगातार कोरोनों मरीजों के बढ़ने और मृतकों की संख्या में इजाफा होने के बाद 7 महीने में दूसरी बार लॉकडाउन लगाया गया है। राष्ट्रपति मैक्रों इमेनुएल द्वारा 1 दिसंबर तक प्रभावी इस कोरोना लॉकडाउन की घोषणा की है।उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर बेहद खतरनाक हो सकती है। अगर सख्त उपाय नहीं किए गए तो मरने वालों का आंकड़ा 4 लाख तक पहुंच सकता है।लॉकडाउन  (Lockdown) शुरू होने से कुछ घंटे पहले पेरिस में लोगों के बीच शहर छोड़ने की होड़ लग गयी। शाम सात बजे तक ट्रैफिक (Traffic ) इतनी बढ़ गयी कि सड़कों पर 700 किमी लंबा जाम लग गया।

नई गाइडलाइन्स (New guidelines) के अनुसार, लोगों को घरों में ही रहने को कहा गया है। बाहर निकलने पर जुर्माना या सजा का प्रावधान किया गया है, हालांकि व्यायाम के लिए घर से एक घंटा बाहर निकलने, ड्यूटी पर जाने या डॉक्टर से मिलने या दवा लाने अथवा जरूरी सामानों के लिए दुकान जाने की छूट दी गई है।दूसरे दौर के लॉकडाउन में स्कूल और ज्यादातर कारोबार खुले रहेंगे। जबकि सामान्य जनजीवन पर कई बंदिशें लगाने के साथ ही बार, रेस्तरां और सिनेमाहाल बंद रहेंगे।

बता दे कि फ्रांस में बीते 24 घंटे में 35 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए है। कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों की संख्या 14 लाख 12 हजार से ज्यादा हो गई है। वायरस से 223 नई मौतों के बाद देश में मरने वालों का कुल आंकड़ा 36 हजार से अधिक हो गया है। सरकार को उम्मीद है कि एक महीने के लॉकडाउन में प्रतिदिन आने वाले मामले 5 हजार तक आ जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here