जहरीली शराब का कहर: उप्र और उत्तराखंड में 76 की मौत, सिंधिया ने योगी सरकार को घेरा

76-Death-by-drinking-poisonous-alcohol-in-uttar-pradesh-and-Uttarakhand

नई दिल्ली। जहरीली शराब ने एक बार फिर कहर बरपाया है| उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में जहरीली शराब पीने से अब तक 76 लोगों के मरे जाने की खबर है| उप्र के सहारनपुर में 55 लोगों की मौत हो चुकी है वहीं कई की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। इसके अलावा उत्तराखंड के रुड़की में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्‍या 21 पहुंच गई है।  इन जिलों में 70 के करीब लोग बीमार बताएं जा रहे हैं। उत्तराखंड के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने बताया कि गुरुवार शाम हरिद्वार के झबरेड़ा क्षेत्र में स्थित बल्लूपुर गांव में एक मृतक की तेरहवीं में कच्ची शराब परोसी गई, जिसके बाद लोगों की तबीयत खराब हो गई।  घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं शराब के सैंपल लैब भेज दिए गए हैं।

जहरीली शराब से मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है| मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अब तक दोनों प्रदेश में 76 लोगों की मौत हुई है| अस्पतालों में पीड़ित लोगों के भर्ती होने की संख्या भी लगातार बढ़ रही है।  दिल दहला देने वाली इस घटना से उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश के अधिकारी सकते में आ गए हैं। कईं गावों में मौत का मामत पसर गया है।  सहारनपुर में शुक्रवार सुबह थाना नागल के गांव उमाही में कई घरों में कोहराम मच गया। ग्रामीण रोते-बिलखते परिजनों के पास पहुंचे तो पता चला कि जहरीली शराब पीने से सात लोगों की मौत हो गई। गांव पहुंचे डीएम-एसएसपी मौका मुआयना कर ही रहे थे कि कुछ ही देर में मालूम पड़ा कि इसी क्षेत्र के गांव सलेमपुर में भी जहरीली शराब से पांच तो ताजपुरा में तीन ग्रामीणों की मौत हो गई। पुलिस ने गागलहेड़ी और नागल थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपये व उपचार करा रहे प्रभावितों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है।

जिला आबकारी अधिकारी और 2 आबकारी इंस्पेक्टर निलंबित 

उत्तर प्रदेश में अवैध शराब का धंधा बेहद खतरनाक होता जा रहा है। गांवों में धधक रहीं शराब की भट्ठियां काफी जानलेवा हो रही हैं। प्रदेश में कुशीनगर में 2 दिन पूर्व जहरीली शराब के सेवन से 10 लोगों की मौत के बाद जिला सहारनपुर में इसका कहर बरपा है। यहां पर अवैध शराब के सेवन से 24 लोगों ने दम तोड़ दिया है जबकि दर्जन भर से अधिक लोगों की हालत गंभीर है। इनका सहारनपुर और देहरादून में इलाज चल रहा है।  जिम्मेदार पुलिस और आबकारी विभाग के लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की गई है। जिला आबकारी अधिकारी और क्षेत्र के 2 आबकारी इंस्पेक्टरों को निलम्बित कर दिया गया है।

सिंधिया ने किया सवाल, योगी जी, आपके राज्य में क्या चल रहा है

दिल दहला देने वाली इस घटना से उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश की सरकार घिर गई है| मध्य प्रदेश के दिग्गज कांग्रेस नेता और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया इस पर सरकार को घेरा है| उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि  अत्यंत शर्म की बात है कि उत्तर प्रदेश के सहरानपर में ज़हरीली शराब के कारण 80 से ज़्यादा मृत्य हो चुकी है। इस गंभीर मामले को लेकर मैंने कलेक्टर से चर्चा कर तुरंत ही मरीज़ों का इलाज करवाने के लिए और दोषियों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्यवाही करने के लिए कहाँ है| सरकार इतनी बड़ी घटना के बाद भी संवेदनहीन बनी हुई है। योगी जी, ये आपके राज्य में क्या चल रहा है?