17 हजार कर्मचारियों को झटका, दिसंबर के वेतन भुगतान में होगी देरी, करना होगा इंतजार, शासन से सब्सिडी राशि की मांग, खाते में आएगी राशि

17000 कर्मचारियों को बड़ा झटका लगा है। दरअसल उन्हें वेतन भुगतान में देरी का सामना करना पड़ेगा। दिसंबर के वेतन भुगतान जनवरी के अंतिम सप्ताह तक किए जाने की उम्मीद जताई गई है। राज्य शासन द्वारा राशि का भुगतान किए जाने के साथ ही सैलरी कर्मचारियों के खाते में भेज दी जाएगी।

Employees Salary : कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण सूचना है। उन्हें बकाये वेतन का भुगतान जल्द कर दिया जाएगा। माना जा रहा है कि आने वाले सप्ताह में उनके खाते में दिसंबर की राशि का भुगतान किया जाना है। इससे पहले विभाग ने राज्य शासन से सब्सिडी की राशि की मांग की है। सब्सिडी की राशि मिलने के साथ ही कर्मचारियों के खाते में उनके तनख्वाह भेजी जाएगी।

17000 कर्मचारियों का वेतन अटका

राजस्थान में बिजली संकट का खामियाजा जनता को भुगतना पड़ा। हालांकि आम जनता के साथ-साथ कर्मचारियों के भी वेतन इंतजार लंबे हो रहे हैं। 17000 कर्मचारियों का वेतन अटक गया। दिसंबर महीने की तनख्वाह के लिए 4 दिन से कर्मचारी इंतजार कर रहे हैं। हालांकि अभी विभाग द्वारा कहा जा रहा है कि 2 से 3 दिन में सरकार से सब्सिडी की राशि की मांग की गई है। तीन से चार दिनों में सब्सिडी की राशि का भुगतान हो जाएगा। जिसके बाद कर्मचारियों के खाते में उनके वेतन भेजे जाएंगे। हर महीने कर्मचारियों के वेतन पर 67 करोड़ रुपए खर्च किए जाते हैं।

विभाग ने शासन से की सब्सिडी राशि की मांग

इधर राजस्थान में बिजली संकट के बीच जयपुर डिस्कॉम द्वारा सरकार से किसानों को दी जाने वाली सब्सिडी राशि की मांग की गई है। राशि का भुगतान जल्द करने को कहा गया है। विभाग के अफसरों का तर्क है कि वित्तीय प्रबंधन गड़बड़ाने की वजह से कर्मचारियों को वेतन का भुगतान नहीं किया गया है।

इससे पहले बिजली संकट के बीच पिछले वर्ष अप्रैल से दिसंबर तक करीब 800 करोड रुपए की बिजली अन्य राज्यों से राज्य सरकार को खरीदनी पड़ी थी जबकि डिस्कॉम द्वारा सरकार को दिए जाने वाले आंकड़े में कहा गया था कि बिजली खरीदी के लिए 250 से 300 करोड़ रुपए खर्च होंगे।

विभाग द्वारा अनुमान जताया गया है कि अगले सप्ताह तक कर्मचारियों के वेतन का भुगतान किया जाएगा। वहीँ राज्य सरकार की तरफ से यदि वेतन भुगतान में देरी होती है तो कर्मचारियों के वेतन का इंतजार लंबा हो सकता है। ऐसे में उन्हें दिसंबर के वेतन के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा।