कर्मचारियों को जल्द मिलेगा बड़ा तोहफा! वेतन में होगा 35000 का इजाफा, जानें नए भत्ते पर ताजा अपडेट

38% DA होने पर 21,622 रुपये डीए के मिलेंगे और प्रतिमाह सैलरी में 2,276 रुपये का इजाफा होगा यानी वार्षिक वेतन में 27,312 रुपये बढ़ेंगे यानि कुल सालाना DA 2,59,464 रुपए होगा। 

new wage code

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। 7th Pay Commission: केन्द्रीय कर्मचारियों-पेंशनरों (Central government employees) के लिए अच्छी खबर सुनने को मिल रही है।  जल्द कर्मचारियों को मोदी सरकार की तरफ से बड़ा तोहफा मिल सकता है।ताजा मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जुलाई में कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में करीब 5% तक इजाफा हो सकता है।यह अनुमान AICPI Index के आधार पर लगाया गया है, हालांकि अभी मई और जून के आंकडे आना बाकी है, जिसके बाद फाइनल होगा कि आखिर जुलाई में कर्मचारियों का डीए कितना बढ़ेगा?

यह भी पढे.. मध्य प्रदेश हाई कोर्ट का बड़ा फैसला, कर्मचारियों-अधिकारियों को फिर मिलेगी हायर पेंशन, आदेश जारी

दरअसल,  वर्तमान में केन्द्रीय कर्मचारियों और पेंशनरों को 34% डीए मिल रहा है, जो जुलाई में 39% तक होने की उम्मीद है। चुंकी साल में दो बार केन्द्रीय कर्मचारियों का DA बढ़ता है। पहली बढ़ोतरी मार्च में हो चुकी है और अब दूसरी बढोतरी जुलाई में होने की संभावना है।  ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (All-India Consumer Price Index) के अप्रैल के डाटा के मद्देनजर 4 से 5% तक डीए में वृद्धि हो सकती है।इसका लाभ 1 करोड़ से ज्यादा कर्मचारियों और पेंशनरों को मिलेगा यानि 47 लाख कर्मचारियों और 68 लाख पेंशनभोगियों को लाभ होगा

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो, 1 जुलाई, 2022 से केंद्रीय कर्मचारियों के लिए दूसरे महंगाई भत्ते का ऐलान हो सकता है। हाल ही में AICPI इंडेक्स द्वारा जारी आंकड़ों मे मार्च में 1 पॉइंट और अप्रैल में भी 1.7 अंक की तेजी देखी गई है। अप्रैल में इंडेक्स का कुल नंबर 127.7 रहा है, हालांकि अभी मई और जून के आंकड़े आना बाकी है, मई के आंकडे 30 जून को जारी होंगे। इसके बाद तय होगा कि जुलाई में कितने प्रतिशत डीए में वृद्धि होगी।अगर AICPI इंडेक्स जून में 129 के आसपास पहुंचता है तो 4 से 5% तक महंगाई भत्ता बढ़ना तय माना जा रहा है।

यह भी पढे.. MPPSC 2021: कश्मीर वाले सवाल पर बोले गृह मंत्री, 2 लोगों को आयोग ने भेजा नोटिस, कार्रवाई के निर्देश

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक यानी कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (AICPI) में चेंजेंस के बाद डीए का कैलकुलेशन नए तरीके से किया जा सकता है।इसके लिए श्रम मंत्रालय ने कैलकुलेशन में आधार वर्ष में 2016 में बदलाव किया है । मजदूरी दर सूचकांक की नई सीरीज के अनुसार, आधार वर्ष 2016=100 के साथ मजदूरी दर सूचकांक की नई सीरीज 1963-65 के आधार वर्ष की पुरानी सीरीज की जगह ले सकती है।खास बात ये कि कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बेसिक सैलरी पर तय किया जाता है। DA का फीसदी= पिछले 12 महीने का CPI का औसत-115.76। जो रिजल्ट आएगा उसे 115.76 से भाग देकर 100 से गुणा कर दिया जाएगा।

 

यहां समझें सैलरी का पूरा गणित

  • केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को 34 फीसदी से बढ़ाकर 39 फीसदी किया गया तो इससे कर्मचारियों के वेतन में 10,000 रुपये से लेकर 34,000 रुपये तक की बढ़ोतरी हो सकती है।
  • अगर किसी कर्मचारी की न्यूनतम बेसिक सैलरी 18,000 रुपए पर है तो 39% DA के हिसाब से सालाना महंगाई भत्ते में कुल इजाफा 7020 रुपए में होगा। मतलब मौजूदा महंगाई भत्ते के मुकाबले 900 रुपए हर महीने बढ़ेंगे। कुल मिलाकर 18000 रुपए बेसिक सैलरी वाले केंद्रीय कर्मचारियों को सालाना 10800 रुपये महंगाई भत्ता का भुगतान होगा।
  • अगर अधिकतम बेसिक सैलरी 56900 रुपए पर देखें तो सालाना महंगाई भत्ते में कुल इजाफा 34140 रुपए होगा। मतलब मौजूदा महंगाई भत्ते के मुकाबले 2845 रुपए हर महीने बढ़ेंगे।
  • यदि कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 56,900 रुपये है, उनको 38% DA होने पर 21,622 रुपये डीए के मिलेंगे और प्रतिमाह सैलरी में 2,276 रुपये का इजाफा होगा यानी वार्षिक वेतन में 27,312 रुपये बढ़ेंगे यानि कुल सालाना DA 2,59,464 रुपए होगा।

Note-यह आंकड़े उदाहरण के तौर पर दर्शाए गए है, कर्मचारियों अपनी सैलरी के हिसाब से कैलकुलेशन कर सकती है।