कर्मचारियों के लिए जरूरी खबर, 1 अप्रैल से पहले करें ये काम, वरना सैलरी में होगा बड़ा नुकसान!

अगर किसी कर्मचारी ने मार्च 2020 और मार्च 2021 के लिए अभी तक क्लेम नहीं किया है तो इसे क्लेम कर सकता है, ऐसे में उनकी सैलरी में 4500 रुपये जुड़कर आएंगे।

employees salary hike

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों-पेंशनरों (Central Employees-Pensioners ) के लिए आखरी मौका है। जिन्होंने अबतक चिल्ड्रेन एजुकेशन अलाउंस (Children Education Allowance – CEA)  का क्लेम नही किया है, वो 31 मार्च 2022 से पहले अपना क्लेम कर लें, वरना मार्च की सैलरी में 4500 का नुकसान उठाना पड़ सकता है। खास बात ये है कि इसके लिए आपको किसी ऑफिशियल डॉक्यूमेंट्स की भी जरूरत नहीं होगी।

यह भी पढ़े..सीएम का पेंशनरों को बड़ा तोहफा, पेंशन में इजाफा, आदेश जारी, अप्रैल से बढ़कर आएगी राशि

दरअसल, 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के मुताबिक, केन्द्रीय कर्मचारियों को उनके बच्चों के लिए केंद्र सरकार  चिल्ड्रन एजुकेशन अलाउंस (Children Education Allowance-CEA) देती है। इसके तहत हर महीने 2250 रुपये का सीईए मिलता है। दो बच्चों के लिए यह 4500 रुपये तक हो सकता है। जिन कर्मचारियों ने अबतक चिल्ड्रन एजुकेशन अलाउंस क्लेम नहीं किया है वे 31 मार्च तक कर सकते है और 4500 बचा सकते है।

अगर किसी कर्मचारी ने मार्च 2020 और मार्च 2021 के लिए अभी तक क्लेम नहीं किया है तो इसे क्लेम कर सकता है, ऐसे में उनकी सैलरी में 4500 रुपये जुड़कर आएंगे।बीते साल केंद्र सरकार ने CEA क्लेम को सेल्फ सर्टिफाइड कर दिया था, जिससे 50 लाख  कर्मचारियों को राहत मिली थी। इस बारे में डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल और ट्रेनिंग (DoPT) ने ऑफिस मेमोरेंडम भी जारी किया था।

यह भी पढ़े.. MP Weather: प्रदेश में गर्मी के तेवर सख्त, 19 जिलों में 3 अप्रैल तक लू का अलर्ट, जानें शहरों का हाल

DoPT के अनुसार, ऑनलाइन फीस जमा कराने के बाद भी स्कूल से SMS/e-mail के जरिए रिजल्‍ट/रिपोर्ट कार्ड्स नहीं भेजे गए। CEA क्लेम को Self declaration या रिजल्ट/रिपोर्ट कार्ड/फीस पेमेंट के SMS/e-mail के प्रिंट आउट के जरिए भी क्लेम किया जा सकता है, हालांकि, यह सुविधा सिर्फ मार्च 2020 और मार्च 2021 में खत्म होने वाले एकेडमिक ईयर के लिए होगी।अगर कर्मचारियों नें अभी तक एकेडमिक सेशन मार्च 2020 से मार्च 2021 के लिए क्लेम नहीं किया है तो वह अब कर सकते हैं।

बता दे कि चिल्ड्रन एजुकेशन अलाउंस सिर्फ केंद्रीय कर्मचारियों के लिए है। इसके तहत कर्मचारियों को स्कूल का प्रमाणपत्र, बच्‍चे का रिपोर्ट कार्ड, सेल्‍फ अटेस्‍टेड कॉपी, फीस की रसीद और क्लेम डॉक्यूमेंट्स लगाने होते हैं।वही स्कूल की तरफ से मिलने वाले डिक्लेरेशन में लिखा होता है कि बच्चा उनके संस्थान में किस क्लास में कौन सी पढ़ाई कर रहा है। हालांकि दूसरी संतान जुड़वां हैं तो पहली संतान के साथ जुड़वां बच्चों की पढ़ाई के लिए भी यह भत्ता दिया जाता है।

यह भी पढ़े.. Share Market : मजबूती के साथ खुले बाजार, Sensex और Nifty दोनों में तेजी जारी