कर्मचारियों-पेंशनरों को जल्द मिलेगा तोहफा! महंगाई भत्ते में होगी फिर वृद्धि, एरियर भी मिलेगा, सैलरी में आएगा बंपर उछाल

आपको सालाना 9,600 रुपये का फायदा होगा । इस हिसाब से 20,000 रुपये बेसिक सैलरी वाले कर्मचारी का सालाना डीए 91,200 रुपये हो जाएगा।

employee news
demo pic

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ देश के अलग अलग राज्यों में सरकारी कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी है। वही दूसरी तरफ केन्द्रीय कर्मचारियों (Central Employees Pensioners) और पेंशनरों को भी जल्द डीए की सौगात मिलने की उम्मीद है। AICPI-IW Index के जनवरी से जुलाई तक के आंकड़े के आधार पर केन्द्र सरकार जल्द केन्द्रीय कर्मचारियों का 4% और महंगाई भत्ता बढ़ा सकती है।इससे सैलरी में बढ़ा उछाल देखने को मिलेगा।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों और शिक्षकों के लिए राहत भरी खबर, ग्रेड पे पर ताजा अपडेट, हाई कोर्ट ने 3 हफ्ते में मांगा जवाब

दरअसल, केंद्रीय कर्मचारियों के सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के आधार पर हर साल छमाही आधार पर 2 बार DA में बढोत्तरी की जाती है। केन्द्र सरकार AICPI इंडेक्‍स के आधार पर DA की दरों को बढ़ाती है। जनवरी 2022 में इस साल की पहली छमाही के लिए बढ़ोतरी कर चुकी है।वही दूसरी छमाही के लिए श्रम एवं रोज़गार मंत्रालय ने जनवरी से जून 2022 तक के आंकड़े जारी कर दिए है, जिसमें इंडेक्स 0.2 प्वाइंट की तेजी के साथ 129.2 पर पहुंच गया। ऐसे में सितंबर में 47.68 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और 68.52 लाख पेंशनभोगियों के महंगाई भत्ते और महंगाई राहत में 4% की वृद्धि होना तय माना जा रहा है।

ताजा मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो नवरात्रि से पहले केन्द्रीय कर्मचारियों (Central Employees Pensioners) और पेंशनरों के महंगाई भत्ते और महंगाई राहत में 4% की वृद्धि की जा सकती है, जिसके बाद कर्मचारियों का कुल डीए 34% से बढ़कर 38% हो जाएगा। यह जुलाई से लागू होगा तो 2 महीने का एरियर मिलेगा। बढ़े हुए डीए की सैलरी का भुगतान अक्टूबर में किया जाएगा। हालांकि अभी तक इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन संभावना जताई जा रही है कि इसका औपचारिक ऐलान 28 सितंबर तक किया जा सकता है।

यह भी पढ़े… कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, महंगाई भत्ते में फिर 3% की बढ़ोतरी, आदेश जारी, सितंबर में बढ़कर आएगी सैलरी

वही आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक 2016 से केंद्र सरकार के पेंशनर्स को दिए जाने वाले महंगाई राहत (DR) में भी 1600% की वृद्धि दर्ज की गई है। वेतन के वास्तविक मूल्य में गिरावट की भरपाई के लिए महंगाई भत्ता दिया जाता है। वही पेंशन भोगियों को भी डीआर का लाभ उपलब्ध कराया जाता है। एक जुलाई 2016 से प्रभावी महंगाई राहत की दर मूल पेंशन परिवारिक पेंशन का 2% थी, हालांकि 1 जुलाई 2019 को यह बढ़कर 5% हो गई। जबकि 1 जुलाई 2021 को महंगाई राहत दर में 14% की बड़ी वृद्धि देखी गई, ऐसे में महंगाई दर में 2016 से 1600% वृद्धि की गई।

किसकी कितनी बढ़ेगी सैलरी

  • कर्मचारी की बेसिक सैलरी अगर 18,000 रुपये है, तो 38% के हिसाब से 6,840 रुपये का महंगाई भत्ता मिलेगा। इस तरह से उन्हें सालाना सैलरी 8,640 रुपये ज्यादा मिलेंगे।
  • कर्मचारी की प्रति महीने बेसिक सैलरी 20,000 रुपये है, तो 38% पर प्रति महीने रकम 800 रुपये बढ़कर 7,600 हो जाएगी। यानी कि आपको सालाना 9,600 रुपये का फायदा होगा । इस हिसाब से 20,000 रुपये बेसिक सैलरी वाले कर्मचारी का सालाना डीए 91,200 रुपये हो जाएगा।
  • अगर किसी की बेसिक सैलरी 31,550 रुपए है तो 4 फीसदी डीए बढ़ने पर 15,144 रुपए का लाभ मिलेगा।
  • अगर अधिकतम बेसिक सैलरी 56,900 रुपए पर देखें तो सालाना महंगाई भत्ते में कुल इजाफा 27312 रुपए होगा। मतलब मौजूदा DA के मुकाबले 2276 रुपए हर महीने बढ़ेंगे। उनका कुल सालाना DA 2 लाख 59 हजार 464 रुपए पहुंच जाएगा।
  • अगर केंद्र सरकार 4% डीए बढ़ाती है तो अभी 30 हजार रुपये बेसिक पाने वाले कर्मचारी को 38% DA होने पर कुल महंगाई भत्‍ता 11,400 रुपये मिलेगा। यानी कर्मचारी के वेतन में सीधे तौर पर हर महीने 1,200 रुपये का इजाफा हो जाएगा और सालभर में कुल 14,400 रुपये ज्‍यादा वेतन मिलेंगे।

सोशल मीडिया पर फेक आदेश वायरल

इधर सोशल मीडिया पर वित्त मंत्रालय द्वारा 3 प्रतिशत महंगाई भत्ते में वृद्धि का एक आदेश सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें लिखा है कि राष्ट्रपति ने हर्ष के साथ ये फैसला किया है एक जुलाई 2022 से केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को 34 फीसदी से बढ़ाकर 38 फीसदी किया जाता है। महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी के बाद सितंबर 2022 के सैलेरी के साथ एरियर का भुगतान किया जाएगा, लेकिन पीआईबी ने अपने फैक्टचेक में इस आदेश को फर्जी करार दिया है, डिपार्टमेंट ऑफ एक्सपेंडिचर की तरफ से ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया गया है।