कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज, महंगाई भत्ते में 4% वृद्धि, नोटिफिकेशन जारी, ऐसे होगा सैलरी कैलकुलेशन

संशोधित वेतन संरचना में Basic Pay शब्द का अर्थ सरकार द्वारा स्वीकृत 7th Pay Commission की सिफारिशों के अनुसार Pay Matrix में निर्धारित स्तर पर लिया गया वेतन है।

employee news

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। मोदी कैबिनेट के फैसले के बाद केंद्र सरकार ने कर्मचारियों (Central Government employees) के महंगाई भत्ते की संशोधित दरों के लिए कार्यालय ज्ञापन को वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग ने जारी कर दिया है।इसके तहत केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों-पेंशनरों का महंगाई भत्ता 4% बढ़ने के बाद 38% हो गया है। यह 1 जुलाई से लागू होगा, ऐसे में 2 महीने का एरियर बढ़े हुए डीए के साथ अक्टूबर की सैलरी में मिलेगा। इसका लाभ 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनधारकों को मिलेगा।

यह भी पढ़े..कर्मचारियों के लिए नई अपडेट, जल्द खाते में आएगी 40000 से 81000 रुपए तक राशि, मिलेंगे कई लाभ

 

केन्द्र सरकार के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में इस वृद्धि के कारण प्रति वर्ष 6,591.36 करोड़ रुपये और वित्तीय वर्ष 2022-23 (यानी जुलाई, 2022 से लेकर फरवरी, 2023 तक की 8 महीने की अवधि) में 4,394.24 करोड़ रुपये का अतिरिक्त वित्तीय बोझ पड़ने का अनुमान है।पेंशनभोगियों को महंगाई राहत में इस वृद्धि के कारण प्रति वर्ष 6,261.20 करोड़ रुपये और वित्तीय वर्ष 2022-23 ( जुलाई 2022 से लेकर फरवरी 2023) में 4,174.12 करोड़ रुपये का अतिरिक्त वित्तीय बोझ पड़ने का अनुमान है।महंगाई भत्ता और महंगाई राहत दोनों के कारण राजकोष पर संयुक्त रूप से प्रति वर्ष 12,852.56 करोड़ रुपये और वित्तीय वर्ष 2022-23 में 8,568.36 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा।

मूल वेतन पर महंगाई भत्ते की गणना

वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार,   महंगाई भत्ता पारिश्रमिक का एक खास भाग बना रहेगा और इसे FR9(21) के दायरे में वेतन के रूप में माना जाएगा। महंगाई भत्ते के भुगतान में 50 पैसे और उससे अधिक के अंश रुपये में पूर्णांकित किया जा सकता है।50 पैसे से कम के अंशों को नजरअंदाज किया जा सकता है। महंगाई भत्ते की गणना के लिए, संशोधित वेतन संरचना में Basic Pay शब्द का अर्थ सरकार द्वारा स्वीकृत 7th Pay Commission की सिफारिशों के अनुसार Pay Matrix में निर्धारित स्तर पर लिया गया वेतन है। Basic Pay में कोई अन्य प्रकार का वेतन जैसे विशेष वेतन आदि शामिल नहीं है।

 रेलवे-रक्षा कर्मियों का अलग आदेश होगा जारी

वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार, केंद्रीय कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते (Dearness Allowance) में 4% की वृद्धि कर दी गई है और इसे 34% से बढ़ाकर 38% कर दिया गया है, ये बढ़ोतरी 1 जुलाई से लागू हो गया है। संशोधित डीए दर डिफेंस सर्विसेज एस्टीमेट से भुगतान किए गए Civilian Employees पर भी लागू होगी और डिफेंस सर्विसेज एस्टीमेट से इसे चार्ज किया जाएगा। रेल मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय द्वारा सशस्त्र बलों के कर्मियों और रेलवे कर्मचारियों के लिए अलग-अलग आदेश जारी किए जाएंगे।

38% DA hike Calculation

  • यदि किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 1,8000 रुपये है तो 34 फीसदी के हिसाब से उसे 6,120 रुपये डीए मिलता है तो डीए 38 फीसदी होने पर कर्मचारी को महंगाई भत्ते के तौर पर 6840 रुपये मिलेंगे। यानी उसे 720 रुपये अधिक मिलेंगे। यानी साल के हिसाब से 8,640 रुपये का फायदा होगा।
  • अगर किसी सरकारी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 56,000 रुपये है तो 38 फीसदी के दर से महंगाई भत्ता 21,280 रुपये हो जाएगा। 56,900 रुपये की अधिकतम सैलरी वाले कर्मचारियों के मासिक वेतन में 2276 रुपये का इजाफा होगा, जबकि सालाना सैलरी में बढ़ोतरी 27,132 रुपये की होगी।
  • अगर आप केंद्रीय कर्मचारी हैं या पेंशनभोगी हैं और आपका बेसिक 20,000 रुपये है तो अब तक आपको DA या DA के तौर पर 34 प्रतिशत मिल रहा है जो राशि 6,800 रुपये की है। महंगाई भत्‍ता बढ़कर 38 प्रतिशत होने के बाद आपको 7,600 रुपये मिलेंगे। मतलब प्रति माह आपको 800 रुपये का फायदा होगा।
  • अगर आपका वेतन या आपकी पेंशन का बेसिक 30,000 रुपये है तो 34 प्रतिशत महंगाई भत्‍ता के हिसाब से आपको 10,200 रुपये मिलते थे लेकिन अब आपको 38 प्रतिशत के हिसाब से 11,400 रुपये मिलेंगे। इस प्रकार आपके वेतन में 1,200 रुपये का इजाफा होगा।
  • इसी के साथ कर्मचारियों के PF, ग्रैच्युटी कंट्रीब्यूशन ,ट्रांसपोर्ट अलाउंस और सिटी अलाउंस में भी बढ़ोतरी होगी।कैलकुलेशन बेसिक सैलरी के आधार पर की गई है।

कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज, महंगाई भत्ते में 4% वृद्धि, नोटिफिकेशन जारी, ऐसे होगा सैलरी कैलकुलेशन