कर्मचारियों-पेंशनरों के महत्वपूर्ण खबर! 18 महीने के बकाया DA Arrears पर नया अपडेट, क्या बजट सत्र में होगा फैसला?

बीते महीने संसद में केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री पंकज चौधरी ने साफ भी किया था कि केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के कारण महंगाई भत्‍ते की 3 क‍िस्‍त को जारी नहीं करने का फैसला क‍िया है, लॉकडाउन के कारण सरकार वित्तीय संकट का सामना कर रही है, सरकार की तरफ से तमाम कल्‍याणकारी योजनाओं में न‍िवेश क‍िया गया। इन्‍हीं कारणों से सरकार की तरफ से पैसा जारी नहीं क‍िया गया।

18 Month DA Arrers 2023 : 1 करोड़ केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनरों ( 7th Pay Commission Central Government employees) के लिए काम की खबर है। 2023 में नए महंगाई भत्ते के साथ अब 18 महीने के बकाया डीए एरियर को लेकर एक बार फिर चर्चा होने लगी है। 1 फरवरी 2023 को केन्द्र की मोदी सरकार अपना बजट पेश करेगी, ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि एरियर पर भी कुछ निर्णय लिया जा सकता है। चुंकी 18 महीनों के डीए का आंकलन किया जाए तो यह हजारों रुपये से लेकर लाखों रुपये तक पहुंच सकता है, जिसकी कर्मचारी लंबे समय से मांग कर रहे है।

दरअसल, केन्द्रीय कर्मचारियों का जुलाई 2020 से जनवरी 2021 तक का डीए का एरियर बकाया है, 2 साल पहले कोरोना काल में 48 लाख केंद्रीय कर्मचारियों व 64 लाख पेंशनभोगियों के महंगाई भत्ते/महंगाई राहत पर रोक लगा दी गई थी। इसको लेकर कर्मचारी और पेंशनर्स संगठन की केन्द्र सरकार के साथ कई दौर की बैठकें हो चुकी है, कर्मचारी संगठन सरकार को एक नेगोशिएटेड सेटलमेंट करने का भी सुझाव दे चुके है लेकिन अबतक कोई हल नहीं निकला है।

बीते महीने संसद में केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री पंकज चौधरी ने साफ भी किया था कि केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के कारण महंगाई भत्‍ते की 3 क‍िस्‍त को जारी नहीं करने का फैसला क‍िया है, लॉकडाउन के कारण सरकार वित्तीय संकट का सामना कर रही है, सरकार की तरफ से तमाम कल्‍याणकारी योजनाओं में न‍िवेश क‍िया गया। इन्‍हीं कारणों से सरकार की तरफ से पैसा जारी नहीं क‍िया गया।अनुमान है कि एरियर की कुल राशि करीब 34,000 करोड़ रुपए है, जिससे केंद्र सरकार को बचत हुई है।

बजट सत्र में हो सकता है फैसला

मनी कंट्रोल की खबर के अनुसार,  बजट सत्र से पहले कर्मचारियों-पेंशनरों ने एक बार फिर अपनी मांगों को वित्त मंत्री तक पहुंचना शुरू कर दिया है। कर्मचारियों को उम्मीद है कि सरकार बजट सत्र के दौरान एरियर पर कोई अंतिम फैसला ले सकती है। बकाया एरियर के लिए बजट आवंटित किया जा सकता है या फिर इसे किस्तों में देने का भी ऐलान किया जा सकता है। हालांकि सरकार की तरफ से कोई नया अपडेट नहीं आया है। अगर भुगतान होता है तो कर्मचारियों के खाते में 2.18 लाख रुपये तक आ सकते हैं।

2 लाख तक बनेगा एरियर

  • केन्द्रीय कर्मचारियों का जुलाई 2020 से जनवरी 2021 तक का डीए का एरियर बकाया है।
  • डीए एरियर का पैसा कर्मचारियों को उनकी सैलरी बैंड के अनुसार मिलेगा।
  • संभावना है कि लेवल-1 के कर्मचारियों का 11,880 रुपए से लेकर 37,554, लेवल-13 (7TH CPC बेसिक पे-स्केल 1,23,100 रुपए से 2,15,900 रुपए) और लेवल-14 (पे-स्केल) को 1,44,200 रुपए से 2,18,200 रुपए का एरियर बकाया है।
  • अगर कर्मचारी का मूल वेतन 18,000 रुपये है, उसे 3 महीने के हिसाब से बकाया डीए एरियर (4,320+3,240+4,320) = 11,880 रुपये मिल सकता है।अगर कर्मचारी का मूल वेतन 56,000 रुपये है उसे 3 महीने का (13,656 + 10,242 + 13,656) = 37,554 रुपये का डीए एरियर मिलेगा।

     

(यह आंकड़े एक उदाहरण के तौर पर दर्शाए गए है, इसमें बदलाव हो सकता है।)