नई दिल्ली| कोरोना वायरस (Corona Virus) महामारी के प्रकोप से आज पूरी दुनिया जूझ रही है| वहीं अब तक कई देशों के वैज्ञानिक कोरोना को मिटाने वैक्सीन (Corona Vaccine) की खोज में दिन-रात जुटे हुए है। लेकिन इस बीच पतंजलि (Patanjali) ने कोरोना की दवा खोजने का दावा किया है। पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण (Acharya Balakrishna) का दावा है कि उन्होंने कोरोना का इलाज तलाश लिया है। उनका कहना है कि कोरोना के आते ही हमने वैज्ञानिकों की एक टीम का गठन किया। पहले सिमुलेशन की गई और ऐसे कंपाउंड्स ढुंढे गए जो वायरस से लड़ सकें।

उन्होंने कहा है कि दवा का पहले चरण में ट्रायल पूरा हो चुका है जिसमें दवा का 100 फीसद रिजल्ट आया है। उन्‍होंने यह भी बताया कि सैकड़ों मरीज इस दवा को लेने से ठीक हुए हैं और अगले तीन से चार दिनों में इस बारे में डेटा के साथ पूरा विवरण दुनिया के सामने रखेंगे। ये दवा आयुर्वेदिक है, जिससे उन्होंने कई मरीजों को ठीक करने का दावा भी किया है।

बालकृष्ण का कहना है कि आयुर्वेद के जरिए कोरोना वायरस का इलाज संभव है। 80 फीसदी मरीज 5-6 दिन में ठीक हो गए हैं। उन्होंने कहा कि अलग-अलग जगहों पर कई कोरोना पॉजिटिव मरीजों को यह दवा दी गई, जिसमें से 80 फीसदी लोग 5 से 6 दिन में ठीक हुए। इस दवा का इस्तेमाल करने के बाद पूरी तरह से स्वस्थ्य होने में कुछ लोगों को 10 से 12 दिन और ज्यादा से ज्यादा 14 दिन का वक्त लगा है। बालकृष्ण ने बताया कि पतंजलि अब इस दवा का क्लिनिकल कंट्रोल ट्रायल कर रही है। इसके नतीजे भी सकारात्मक रहे हैं। आने वाले तीन से चार दिनों में इसका पूरा विवरण सबूतों के साथ साझा किया जाएगा