पटाखे बेचने वालों पर होगी प्रशासन की कड़ी नजर, बनाई गई टीम

दिल्ली में पटाखे बेचने पर पूरी तरह से बैन है इसीलिए प्रशासन ने इसकी बिक्री करने वालों पर कड़ी नजर रखने का प्लान बनाया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। त्योहारों का सीजन शुरू हो चुका है और जल्द ही दीपावली का त्योहार आने वाला है। दीपावली पर सभी अपने घरों में मां लक्ष्मी की पूजन करने के बाद पटाखे (Firecrackers) फोड़ते हैं। इसी के चलते दिल्ली (Delhi) के पर्यावरण विभाग ने एक सर्कुलर जारी किया है। इसके तहत दिल्ली में 1 जनवरी 2023 तक पटाखों की खरीदी और बिक्री पर रोक लगाई गई है। प्रशासन पटाखा बिक्री करने वालों पर कड़ी नजर रखने वाला है।

प्रशासन द्वारा दिए गए निर्देश के मुताबिक बाहरी राज्यों से आने वाले पटाखे की खेप पर प्रशासन अपनी नजर बनाए रखेगा। बॉर्डर एरिया में आने वाले पटाखों से लदे ट्रक की एंट्री की जांच होगी। इस संबंध में सभी जोनल डिप्टी कमिश्नर को लेटर जारी कर दिए गए हैं।

Must Read- एयरपोर्ट पर Kareena Kapoor को अकेला देख फैंस ने कर दी ऐसी हरकत, गुस्से में दिखीं एक्ट्रेस

जारी किए गए लेटर में यह जानकारी दी गई है कि बॉर्डर एरिया में आने वाले पटाखों की खेप के अलावा स्टोरेज और खरीद-फरोख्त पर भी पूरी नजर रखी जाएगी। इसके लिए MCD ने एक टीम बनाई है।

बता दें कि दिल्ली में बैन होने के बावजूद भी पटाखों की बिक्री नहीं रुक रही है। कुछ दिनों पहले ही पालम एरिया में एक व्यक्ति को 6 किलो पटाखे के साथ गिरफ्तार किया गया था। दिल्ली में प्रदूषण का स्तर हमेशा ही ज्यादा रहता है यही वजह है कि पटाखों की खरीदी बिक्री पर रोक लगाई गई है।

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कुछ समय पहले इस बारे में जानकारी देते हुए बताया था कि जनवरी 2023 तक यहां किसी भी प्रकार की पटाखों की खरीदी बिक्री नहीं होगी। ऑनलाइन बिक्री और डिलीवरी पर भी रोक लगी रहेगी।