अगले साल मई से शुरू हो जाएगा महिलाओं का एनडीए से दाखिला, सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार का जबाब

दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि अगले साल मई से महिलाओं का एनडीए से दाखिला शुरू हो जाएगा। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है की भारतीय सेना, नेवी और एयर फोर्स में महिलाओं को प्रतिष्ठित एनडीए के जरिया दाखिला शुरू किया जाएगा जिसके लिए सरकार मई 2022 तक जरूरी इंतजाम पूरा कर लेगी। मई 2022 के डेडलाइन को पूरा करने के लिए रक्षा मंत्रालय ने तैयारी शुरू कर दी है। फिलहाल यहां सिर्फ पुरुषों को एंट्री मिलती है. अब तक जितने भी सेना प्रमुख बने है वो सब एनडीए से ही हुए हैं।

मध्य प्रदेश में हजारों चयनित शिक्षकों को बड़ा झटका, नियुक्ति को लेकर आई नई अपडेट

केंद्र सरकार का ये जवाब सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुआ है। इससे पहले अदालत ने केंद्र सरकार से हलफनामा दाखिल कर टाइमलाइन बताने के लिए कहा था जिससे साफ हो की कब तक महिलाएं एन. डी.ए यानी नेशनल डिफेंस एकेडमी में दाखिला ले पाएंगी। सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल हुई थी जिसमें बराबरी का हवाला देते हुए मांग की गई थी की महिलाओं को भी एन.डी.ए में दाखिला मिलना चाहिए।

MP Weather : आज 13 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, 5 संभागों में बिजली गिरने के आसार

हालांकि शुरू में केंद्र सरकार ने इसका विरोध किया था लेकिन अदालत के कड़े रुख के बाद केंद्र सरकार को ये नीतिगत फैसला लेना पड़ा था की अब महिलाओं को भी एन.डी.ए में दाखिला मिलेगा. एन.डी.ए में बारहवीं पास करने के बाद कड़ी परीक्षा के तहत दाखिला दिया जाता है। यहां के कैडेट को फिर सेना में अफसर रैंक के लिए तैयार किया जाता है। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को यह भी बताया है की महिलाओं के ट्रेनिंग और रहने के लिए सुविधा तैयार की जा रही है। एक एक्सपर्ट ग्रुप इस बात की समीक्षा कर रहा है की यहां महिलाओं को किस तरह से ट्रेनिंग दी जाएगी और उनका क्या पाठ्यक्रम होगा।