CBI रेड के बाद डिप्टी सीएम सिसोदिया ने ली प्रेस कॉन्फ्रेंस, पीएम मोदी पर साधा निशाना

CBI की रेड के बाद दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर शराब पॉलिसी को बेस्ट बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Deputy CM Manish Sisodia) ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस ली। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने विवाद में आई शराब नीति को देश की सबसे बेस्ट पॉलिसी करार दिया। मनीष सिसोदिया यह कहते दिखाई दिए कि जिस शराब नीति को खराब बताया जा रहा है, मैं कहूंगा कि वह देश की बेस्ट पॉलिसी है।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि जिस तरह से अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) अपना नाम बना रहे हैं, लोगों को उनसे परेशानी हो रही है. उनकी सबसे बड़ी ताकत है कि वह ईमानदार है, कट्टर हैं और उन्हें काम करना आता है. वो एजुकेशन और हेल्थ जैसी चीजों को ठीक करके दिखा चुके हैं।

सिसोदिया ने आगे कहा कि उनकी वजह से ही भारत का नाम रोशन हो रहा है। यही वजह है कि केजरीवाल के हेल्थ मिनिस्टर, एजुकेशन मिनिस्टर के यहां छापेमारी की जा रही है। सिसोदिया ने कहा कि मैंने भ्रष्टाचार नहीं किया, बस मेरा कसूर इतना है कि मैं केजरीवाल का एजुकेशन मिनिस्टर हूं। जानता हूं दो-चार दिन में मुझे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Must Read- भोपाल : नगर निगम की अतिक्रमण हटाने गई टीम पर हमला 

इस दौरान मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पर निशाना साधते हुए कहा कि केजरीवाल और मोदी में यही फर्क है कि केजरीवाल अच्छे काम की प्रशंसा करते हैं और उससे सीखते हैं और मोदीजी अच्छे काम को रोकना चाहते हैं। 2 दिन पहले केजरीवाल ने मेक इन इंडिया नंबर वन कैंपेन लॉन्च किया था। उसे सपोर्ट करने की जगह मोदीजी ने केजरीवाल के जुकेशन मिनिस्टर पर रेड डलवा दी।

सिसोदिया ने कहा है कि अगर शराब पॉलिसी को ठीक से लागू किया जाता, तो 10 हजार करोड रुपए का फायदा मिलता। एलजी और मनोज तिवारी अलग-अलग आंकड़े बता रहे थे। लेकिन FIR में किसी भी आंकड़े का जिक्र ना करते हुए बस यह बोला गया है कि एक करोड़ का घोटाला हुआ है, जो कि बकवास है। मंत्री ये कहते दिखाई दिए कि उन्हें शराब पॉलिसी में घोटाले की चिंता नहीं हो रही है, अगर चिंता होती तो सीबीआई दफ्तर गुजरात में शिफ्ट हो चुका होता। सिसोदिया ने प्रधानमंत्री द्वारा उद्घाटन करने के बाद 5 दिन में धंस गए हाईवे का जिक्र करते हुए कहा कि करोड़ों का घोटाला हुआ, अगर घोटाला मुद्दा होता तो सीबीआई उसकी जांच करती।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान न्यूयॉर्क टाइम्स के फ्रंट पेज को दिखाते हुए मनीष सिसोदिया ने यह कहा कि भारत के एजुकेशन मॉडल ने जो कमाल किया है वह दिल्ली के टीचर और बच्चों की मेहनत है। जबकि, डेढ़ साल पहले इस अखबार के फ्रंट पेज पर कोरोना के वक्त गंगा में बहाई गई लाशों को दिखाया गया था जो शर्म की बात थी।

डिप्टी सीएम ने कहा कि सीबीआई ऑफिसर मेरे घर पर आए थे और सचिवालय में मेरे ऑफिस पर भी रेड डाली थी। मैं इस बात का शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने मेरे परिवार वालों के साथ अच्छा व्यवहार किया। सिसोदिया ने कहा कि 2024 का चुनाव आम आदमी पार्टी वर्सेज भाजपा का होने वाला है। जब भी सवाल आता है कि मोदी वर्सेज कौन होगा? तो, लोग अरविंद केजरीवाल की ओर देखते हैं।