कोरोना की तीसरी लहर की आशंका और त्योहार के बीच केंद्र ने राज्‍यों को जारी किए निर्देश..

दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका और त्यौहारी सीजन को देखते हुए केंद्र सरकार ने शनिवार को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कोरोना की स्थितियों का गहन विश्लेषण करने का निर्देश दिया है। साथ ही यह भी सुझाव दिया कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने की सख्त जरूरत है।चिकित्‍सको की माने तो दूसरी लहर के कहर के बाद अब त्‍यौहारी सीजन में लापरवाही के चलते कोरोना की तीसरी लहर के आने की आशंका जताई है। विशेषज्ञों ने त्‍यौहारों में जमावड़ों पर रोक लगाने को लेकर सख्‍त कदम उठाए जाने का सुझाव भी दिया है। इस बीच केंद्र सरकार ने शनिवार को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कोरोना की स्थितियों का गहन विश्लेषण करने का निर्देश दिया। साथ ही यह भी सुझाव दिया कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को मजबूत करना चाहिए और जरूरी दवाओं का स्‍टाक करना चाहिए।

पंजाब के बाद अब राजस्थान में भी उथल-पुथल के संकेत, CM के OSD ने किया ट्वीट

त्योहारों के सीजन में जमावड़ों में लोगों की ओर से कोविड प्रोटोकाल के पालन में लापरवाही कोरोना के बढ़ने महत्वपूर्ण कारक साबित हो सकती है। विशेषज्ञों की मानें तो तीसरी लहर के संबंध में कोरोना का नया वैरिएंट घातक साबित हो सकता है क्योंकि त्योहारों के सीजन में लोगों की भीड़ में इसके तेजी से फैलने की आशंका होगी। विशेषज्ञों ने आगाह किया है कि तीसरी लहर को लेकर सबसे बड़ा खतरा त्‍यौहारों के सीजन में ही होगा।इसलिए बहुत जरूरी है कि राज्य इस पर ध्यान दे और तमाम नियमों का पालन सख्ती से करवाये।

नीमच में जली महिला का वीडियो वायरल, पीड़िता लगा रही न्याय के लिए गुहार

कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोविड-19 प्रबंधन और प्रतिक्रिया रणनीति की समीक्षा की। गौबा ने राज्‍यों से कहा कि किसी तरह की लापरवाही को कोई जगह नहीं दी जा सकती है। कोरोना की चुनौतियों को देखते हुए राज्‍य सरकार को अस्‍पतालों में मानव संसाधन को बढ़ाना चाहिए। गौबा ने राज्‍यों से त्‍यौहारी सीजन में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरतने की सलाह दी। उन्‍होंने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सख्‍त कदमों को उठाने के भी निर्देश दिए।

अमरिंदर बोले- “सिद्धू नहीं, अपमान की वजह से दिया इस्तीफा”

चिकित्‍सको ने कोरोना की दूसरी लहर के बाद अब त्‍यौहारी सीजन में लापरवाही के चलते कोरोना की तीसरी लहर के आने की आशंका जताई है। विशेषज्ञों की माने तो त्‍यौहारों में जमावड़ों पर रोक लगाने को लेकर सख्‍त कदम उठाए जाने का सुझाव भी सरकार को दिया है। कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोविड-19 प्रबंधन और प्रतिक्रिया रणनीति की समीक्षा की। केंद्र सरकार ने राज्‍यों से कहा कि किसी तरह की लापरवाही को कोई जगह नहीं दी जा सकती है। कोरोना की चुनौतियों को देखते हुए राज्‍य सरकार को अस्‍पतालों में मानव संसाधन को बढ़ाना चाहिए। गौबा ने राज्‍यों से त्‍यौहारी सीजन में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरतने की सलाह दी। उन्‍होंने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सख्‍त कदमों को उठाने के भी निर्देश दिए है।