अमिताभ बच्चन दादासाहेब फाल्के अवॉर्ड से सम्मानित, बोले- कहीं यह घर बैठकर आराम करने का संकेत तो नहीं?

नई दिल्ली। अपने दमदार डायलॉग और अभिनय से हर दिल पर राज करने वाले महानायक अमिताभ बच्चन को रविवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दादा साहब फाल्के अवॉर्ड से सम्मानित किया। इस दौरान अमिताभ की पत्नी जया बच्चन और बेटे अभिषेक बच्चन मौजूद थे। अमिताभ बच्चन ने पुरस्कार लेने के बाद सभी का शुक्रिया अदा किया और कहा पुरस्कार को मैं बहुत ही विनम्रता से स्वीकार करता हूं, आभार प्रकट करता हूं। 

अमिताभ बच्चन ने कहा कि दादा साहब फाल्के पुरस्कार को देने की शुरुआत करीब 50 साल पहले हुई और मुझे इंडस्‍ट्री में काम करते हुए भी करीब 50 साल हो गए हैं। उन्होंने कहा, ‘जब इस पुरस्कार की घोषणा हुई तो मेरे मन में एक संदेह उठा कि क्या कहीं ये संकेत है मेरे लिए कि भाई साहब आपने बहुत काम कर लिया है, अब घर बैठ के आराम कीजिए। क्योंकि अभी भी थोड़ा काम बाकी है, जिसे मुझे पूरा करना है और आगे भी कुछ ऐसी संभावनाएं बन रही हैं जहां मुझे काम करने का अवसर मिलेगा, यदि इसकी पुष्टि हो जाए तो बड़ी कृपा होगी।’ इस दौरान बैठे सभी लोग हंस पड़े और तालियों की गड़गड़ाट से सभागार गूंज उठा। अमिताभ बच्चन ने कहा कि मैं यहां तक भारत की जनता के कारण पहुंचा हूं जिन्होंने मुझे इतना प्यार दिया।